कोरोना से क्रिकेट में लॉकडाउन, ऑस्ट्रेलिया का स्कॉटलैंड-इंग्लैंड दौरा रद्द होने के आसार

कोरोना काल में  दुनिया को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है । फिलहाल  वैश्विक महामारी के खत्म होने के आसार नहीं दिख रहे हैं । ऐसे में दुनिया को जबरदस्त जान-माल का नुकसान उठाना पड़ा है । कोरोना से हर तरफ मायूसी का माहौल है । क्रिकेट भी इससे अछूता नहीं है । क्रिकेट के कई अहम टूर्नामेंट रद्द हो चुके हैं । इस बीच ऑस्ट्रेलिया का इंग्लैंड और स्कॉटलैंड दौरा भी खटाई में पड़ता दिख रहा है ।

कब है ऑस्ट्रेलिया का दौरा

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच मुकाबला भारत-पाकिस्तान के महामुकाबला की तरह माना जाता है । फैंस को इसका बेसब्री से इंतजार रहता है । ऑस्ट्रेलिया इस साल जून-जुलाई में स्कॉटलैंड और इंग्लैंड के दौरे पर जाने वाली है । क्रिकेट कैलेंडर के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया को 29 जून से स्कॉटलैंड के खिलाफ T-20 मैच खेलना है वहीं 3 जुलाई से वर्ल्ड चैंपियन इंग्लैंड के खिलाफ 3 T-20  और 3 वनडे मैच खेलना है । लेकिन कोरोना संक्रमण से जूझ रहे इग्लैंड के ताजा हालात को देखते हुए ये दौरा संभव नहीं लग रहा है ।

डेविड वार्नर की आशंका     

ऑस्ट्रेलिया के बाएं हाथ के ओपनिंग बल्लेबाज डेविड वार्नर ने कहा कि   इंग्लैंड में जो कुछ हो रहा है उसे देखते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम के वहां जाने की संभावना न के बराबर है । वहीं इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने एक जुलाई तक हर तरह के क्रिकेट को स्थगित कर रखा है । इंग्लैंड की वेस्टइंडीज के खिलाफ जून में होनेवाली टेस्ट सीरीज का नया प्रोग्रोम तैयार किया जा रहा है ।

ऑस्ट्रेलिया का बांग्लादेश दौरा रद्द

हम आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलिया का बांग्लादेश का दौरा पहले ही रद्द किया जा चुका है । ये दौरा जून में होना था । वहीं जिम्बॉब्वे के खिलाफ होनेवाला लिमिटेड ओवर की सीरीज भी कोरोना की भेंट  ना चढ़ जाए यहीं आशंका है । क्योंकि कोरोना संक्रमण फिलहाल खत्म होता नहीं दिख रहा है ।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को नुकसान

कोरोना से अर्थव्यवस्था चरमरा गई है । क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया अपने स्टाफ के लिए नौकरी की तलाश में जुटा है । क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी ने वूलवर्थ के सीईओ को लेटर लिखा है और अपने स्टाप के लिए नौकरी मांगी है । क्योंकि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले मैच भी कोरोना की वजह से रद्द हो  रहे हैं क्योंकि उड़ानें रद्द और इंफेक्शन की वजह से कोई बोर्ड जोखिम नहीं उठाना चाहता है ।

You may also like...