दिल्ली हिंसा- गिरफ्तार होगा AAP वार्ड पार्षद ताहिर हुसैन


उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा मामले में जहां मौत का आंकड़ा बढ़कर 38 तक पहुंच गया है वहीं अब आरोपियों पर एक्शन भी शुरु हो गया है । इसी कड़ी में आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन पर तीन तरफ से शिकंजा कसा जा चुका है ।

पार्टी से निलंबित , मकान हुआ सील

एक तरफ आम आदमी पार्टी ने उसे जांच पूरी होने तक पार्टी से निलंबित कर दिया है , तो दूसरी तरफ दिल्ली के खजूरी खास में ताहिर की फैक्ट्री को भी सील कर दिया गया है ।इतना ही नहीं अब ताहिर पर गिरफ्तारी की तलवार भी लटक रही है क्योंकि हिंसा में मारे गए आईबी के कर्मचारी अंकित शर्मा के परिवार वालों की शिकायत के बाद ताहिर पर मर्डर का केस भी दर्ज कर लिया गया है। ताहिर पर मर्डर का ये केस दिल्ली के दयालपुर थाने में दर्ज किया गया है।

वीडियो वायरल होने के बावजूद खुद को बता रहा निर्दोष

दरअसल ताहिर हुसैन का विडियो वायरल होने के बाद से ही उस पर कार्रवाई की मांग की जा रही थी,और अब तक ताहिर की गिरफ्तारी ना होने पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं।

ताहिर हुसैन

हालांकि ताहिर ने खुद को निर्दोष बताया है और घर में मिले हथियारों पर सफाई देते हुए कहा है कि उसने उपद्रवियों से बचने के लिए अपने घऱ की छत पर पेट्रोल बम, पत्थर और दूसरे हथियार जमा किए थे।

पहले AAP ने किया था बचाव, फिर किया किनारा

ताहिर का वीडियो सामने आने के बाद से ही आम आदमी पार्टी उसका बचाव कर रही थी । AAP के संजय सिंह ने उसके बचाव में बयान भी दिया था ।

लेकिन जब ताहिर पर शिकंजा कसा तो आप ने भी उससे किनारा कर लिया इतना ही नहीं पीड़ितों के लिए मुआवजे का एलान करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने यहां तक कह दिया कि अगर उनकी पार्टी का कोई नेता दोषी पाया जाता है तो उसे दोगुनी सजा दी जाए । हालांकि आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने ताहिर हुसैन का बचाव करते हुए इसे बीजेपी की साजिश बताया है ।


अब ताहिर पर की गिरफ्तारी कभी भी हो सकती है । दिल्ली हिंसा की जांच के लिए गृहमंत्रालय ने दो एसआईटी का गठन किया है पुलिस ने आम लोगों से भी हिंसा से संबंधित तस्वीरें और वीडियो उपलब्ध कराने की अपील की है, ताकि जांच में तेजी लाई जा सके ।

उत्तर पूर्वी दिल्ली में फिलहाल शांति है लेकिन दंगे थमने के बाद जो तस्वीरें सामने आ रही हैं वो उस दिन हुए भयानक मंजर को बयां कर रही हैं…अब पीड़ितों के जख्मों पर मरहम लगाने का काम किया जा रहा है दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा दिए जाने का एलान किया है जबकि गंभीर रूप से घायल लोगों को दो-दो लाख का मुआवजा दिया जाएगा…दंगों में जिनका घर जलाया गया उन्हें 5 लाख की मदद दी जाएगी…

You may also like...