लॉकडाउन में बिग बाजार-फ्लिपकार्ट घर पहुंचाएगा सामान, एमेजॉन जल्द ले सकता फैसला

भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन है। कोरोना वायरस के कहर पर कंट्रोल के लिए सरकार हर तरह की कोशिश कर रही हैं। लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर देने की अपील की जा रही है। लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग में आमलोगों की जरूरत को पूरा करना सरकार की प्राथमिकता हैं। हर दिन सरकार आम लोगों के लिए नई घोषणाएं कर रही है। ताकि देशवासियों को किसी चीज की किल्लत ना हो।

बिग बाजार और फ्लिपकार्ट की पहल

वैश्विक महामारी में देश का कोई व्यक्ति भुखा ना रहे। सरकार इसी नजरिया से काम कर रही। इसमें देश के हर संस्थान की मदद मिल रही है। हर कोई अपने तरह से सहयोग करने के लिए आगे आ रहा हैं। इसी कड़ी में बिग बाजार और फ्लिपकार्ट ने नई पहल की है ताकि लॉकडाउन का व्यापक असर हो। लिहाजा ग्रॉसरी के बड़े स्टोर बिग बाजार ने लॉकडाउन में डोर टू डोर सामान पहुंचाने की सेवा पर फोकस किया है। पहले फ्लिपकार्ट ने अपनी सेवा को अस्थायी रुप से बंद कर दिया था लेकिन सरकार के पहल के बाद फ्लिपकार्ट ने मूड में बदलाव किया है और जरूरी सामान की सप्लाई के लिए उसकी सेवाएं फिर शुरू हो गई हैं।

बिग बाजार किन शहरों में पहुंचाएगा सामान

बिग बाजार ने घर-घर सामानों की डिलीवरी की पेशकश की है। सुपरमार्केट चेन बिग बाजार यह सुविधा दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु और गुरुग्राम जैसे शहरों में देगी। इसके लिए बिग बाजार अपने कस्टमर्स से क्या अतिरिक्त चार्ज लेगा, कितने कीमत की सामान की डिलीवरी घर तक होगी। ये अभी साफ नहीं है। इस बीच सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उत्तराखंड, नोएडा, गाजियाबाद, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, जम्मू, पंजाब, हरियाण, फरीदाबाद, गुजरात तथा राजस्थान में डोर टू डोर डिलीवरी की शुरुआत की गई है। जबकि पहले बताया गया था कि दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु और गुरुग्राम में ये सेवा शुरू होगी।

एमेजॉन के रुख में नरमी

एमेजॉन ने जरूरी सामानों तक ही सप्लाई को सीमित कर रखा है । लेकिन सरकार के दबाव के मद्देनजर एमेजॉन ने अपनी योजना में बदलाव का मन बनाया है। एमेजॉन का कहना है कि फिलहाल सरकार से बातचीत चल रही हैं । जल्द ही फैसला ले लिया जाएगा। वैसे एमेजॉन सप्लाई स्टाफ की कमी की भी बात कर रहा है।

ग्रोफर्स ने कहा सप्लाई में देरी होगी

ग्रोफर्स अपने कस्टमर्स को मेसेज भेजकर ऑर्डर में देरी की बात कह रहा है। उसका कहना है कि हम समझते हैं इस संकट की घड़ी में ग्रॉसरी की समय पर डिलिवरी जरूरी है, लेकिन लॉकडाउन की वजह से हमारा डिलिवरी स्टाफ चेकपॉइंट्स पर रोक लिया जा रहा है। इसके अलावा, कई लोकल अथॉरिटीज ने हमारे गोदाम बंद कर दिए हैं। हमारी कोशिश है कि आप तक जरूरी चीजें पहुंचाएं लेकिन देरी हो सकती है। लिहाज कस्टमर्स हमें सहयोग करें और थोड़ा इंतज़ार भी।

You may also like...