BREAKING CORONA : भारत में कातिल कोरोना का कहर, संक्रमण के 649 मामले, अब तक 18 लोगों की मौत

कोरोना वायरस का कहर रूकने का नाम नहीं ले रहा और ये बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना खतरे को मात देने के लिए भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन लगा है। गुरुवार को लॉकडाउन का दूसरा दिन है। पीएम मोदी के मना करने के बावजूद कुछ लापरवाह लोग इस जानवेला खतरे को भारत से जाने में रोक रहे हैं। देश में कोरोना केस की संख्या करीब 650 पहुंच गई है, जबकि कातिल कोरोना ने 18 लोगों की जान ले ली है।

भारत कोरोना का कहर

  • केस                 मौत                  संकमण के बाद ठीक
  • 649                  18                      43
  • राज्य संक्रमितों की संख्या
  • महाराष्ट्र 122
  • केरल 118
  • कर्नाटक 51
  • यूपी 38
  • गुजरात 35
  • दिल्ली 35
  • पंजाब 29
  • तमिलनाडु 05

अगर हम सभी कोरोना वायरस के महामारी से बचने के लिए संयम से 21 दिनों के लॉकडाउन का पालन करें तो इस जानलेवा वायरस को हरा देंगे। पीएम मोदी ने भी अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों से टेलिकॉंन्फ्रेंसिंग से बातचीत में कहा कि महाभारत का युद्ध 18 दिन में तक चला था हम कोरोना पर 21 दिनों में जीत हासिल करेंगे। परन्तु इसके लिए आप सिर्फ और सिर्फ घरों में रहें।

देश में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ी

बुधवार को लॉकडाउन के 24 घटे गुजर गए। इस दौरान कोरोना संक्रमितों की संख्या करीब 650 पहुंच गई। हेल्थ मिनिस्टरी के अनुसार महाराष्ट्र में 122 और केरल में 118, कर्नाटक में 51, यूपी में 38, गुजरात में 35, पंजाब में 29, दिल्ली में 35, तमिलनाडु में 5 मामलों की पुष्टि की गई है । इन मामलों के साथ देशभर में 612 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है जिनमें 560 का इलाज चल रहा है और 42 ठीक हो चुके हैं। जबकि 10 लोगों की मौत हुई है। जिसमें तमिलनाडु में बुधवार को हुई पहली मौत भी शामिल है। महाराष्ट्र में अब तक 4 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना से लड़ाई में कोताही नहीं

महाराष्ट्र में कोरोना के बढते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने न्यूज पेपर प्रिटिंग और डिस्ट्रीब्यूशन पर रोक लगा दिया है। वहीं उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बड़ा फैसला लेते हुए है स्वास्थ्य सेवा से जुड़े कर्मियों को 4 महीने का अग्रिम वेतन भुगतान किया। संक्रमितों के इलाज के लिए सैन्य आयुध फैक्टरी और केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के अस्पतालों में 2,000 बेड्स की व्यवस्था आइसोलेशन वार्ड के तहत की गई है। इस बीच दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने सभी के लिए आवश्यक सेवाओं की उपलब्धता जारी रखने का भरोसा दिलाया और कहा कि हमने उन सभी को ई-पास देने का फैसला किया है जो व्यवसायों में शामिल हैं, लेकिन उनके पास कोई आईडी नहीं है। ई-पास के लिए आप 1031 पर संपर्क कर सकते हैं। जबकि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने पान, पान- मसाला और गुटखा पर पांबदी लगा दिया है।

लॉकडाउन तोड़ने वालों पर कार्रवाई

देशभर में लॉकडाउन तोड़ने वालों पर पुलिस की सख्ती दिखी। उत्तर प्रदेश में 1,788 एफआईआर दर्ज की गई हैं और कुल 5,592 लोगों का चालान किया है। वहीं राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन तोड़ने के मामले में 5,103 लोगों को बुधवार को हिरासत में लिया गया और 180 से अधिक मामले दर्ज किए गए। जबकि बैंगलोर में कुछ लोग लॉकडाउन में पुलिस कर्मी से मारपीट करते दिखे। पटना बस स्टैंड में इस दौरान लोगों की भारी को हटाने में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

You may also like...