वाह रे पाकिस्तान…कोरोना को बना लिया कारोबार!, जिंदगी बचाने के लिए लग रही प्लाज्मा की बोली

पाकिस्तान में कोरोना बीमारी नहीं बल्कि कारोबार बन चुका है। जहां प्लाज्मा का रैकेट चल रहा है। जी हां कंगाल पाकिस्तान में कोरोना का कारोबार चल रहा है। और ये सबकुछ हो रहा है कि इमरान सरकार की नाक की नीचे। खबर है कि मरीजों करने की बजाए वहां प्लाज्मा को बोली लग रही है। पाकिस्तान में प्लाज्मा की ब्लेकमेलिंग हो रह है। जिसे देखने वाला कोई नहीं है।

कंगाल पाकिस्तान कर रहा कोरोना कारोबार

पूरी दुनिया कोरोना की महामारी से लड़ रही है। संक्रमण से बचने बचाने के रास्ते तलाशे जा रहे है। लेकिन पाकिस्तान में कोरोना कारोबार बन चुका है। ये कारोबार है प्लाज्मा का, जिसकी बोली लग रही है। जिसके पास पैसा है वो औने पौने दामों पर प्लाज्मा खरीद रहा है। खबरों की माने तो पाकिस्तान में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए इस्तेमाल ब्लड प्लाज्मा यहां मोटा पैसा कमाने का बड़ा जरिया बनता जा रहा है।

95 हजार में बिक रही एक बोतल प्लाज्मा

पाकिस्तान में ठीक हुए कोरोना मरीज अपना एक बोतल प्लाज्मा 95 हजार रुपए तक में बेच रहे हैं। इस्लामाबाद के एक शख्स मोहम्मद साजिद ने बताया कि उन्होंने कोरोना पीड़ित अपने बेटे के इलाज के लिए बहुत ज्यादा कीमत में ठीक हुए मरीज का प्लाज्मा खरीदा। उनके पास और कोई विकल्प नहीं था।

पाकिस्तान में मर गई इंसानियत!

पूरी दुनिया में प्लाज्मा दान किया जा रहा है। लेकिन पाकिस्तान में इसकी धड़ल्ले से कालाबाजारी हो रही है। न तो ब्लड बैंंक पर कोई निगरानी है और ना ही प्लाज्मा बेचने वाले पर अंकुश। ऐसे में लगता है कि जैसे पाकिस्तान में इंसानियत मर गई है। जहां सरकार और पुलिस की नाक के नीचे प्लाज्मा की खरीद फरोख्त हो रही है.. और इसे रोकने वाला कोई नहीं

इमरान राज में हो रहा जिंदगी का सौदा

एक तरफ पाकिस्तान में कोरोना का फलता फूलता कारोबार है तो वहीं दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण के मामले में पूरी तरह से फेल साबित हुई इमरान सरकार। दरअसल पाकिस्तान में हुक्मरान से लेकर अवाम तक शुरू से ही कोरोना को लेकर कंफ्यूज रही। इसलिए ना तो लॉकडाउन का सख्ती से पालन हो पाया और ना ही संक्रमण पर रोक लग सकी।

पाकिस्तान में कोरोना कोई बीमारी नहीं!

एक रिपोर्ट के मुताबिक 97% पाकिस्तानी कोरोना बीमारी को नहीं मानते। खुद प्रधानमंत्री इमरान खान भी कंफ्यूजन के शिकार है। पाकिस्तान में अब तक 1 लाख 85 हजार 34 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि 3,695 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है।

You may also like...