ऑनलाइन क्लास में पाकिस्तान का गुणगान, योगी के शहर में महिला मुस्लिम टीचर सस्पेंड

योगी के शहर गोरखपुर में ऑनलाइन क्लास के दौरान पाकिस्तान का उदाहरण देकर एक टीचर को अंग्रेजी पढ़ाना महंगा पड़ा. इस टीचर ने बच्चों को संज्ञा पढ़ाते वक्त पाकिस्तान को प्यारा बता दिया जिसके बाद बड़ा बवाल खड़ा हो गया.

प्रतिष्ठित स्कूल की घटना

ये घटना शहर के सबसे प्रतिष्ठित स्कूलों में से एक जी एन नेशनल पब्लिक स्कूल मे हुई. यहां बच्चों को ऑनलाइन पढ़ा रहीं एक मुस्लिम शिक्षिका पाकिस्तान को अपनी प्यारी मातृभूमि और पाकिस्तान की सेना में भर्ती होने जैसी ख्वााहिश को उदाहरण के तौर पर दिखाकर विवादों में घिर गईं.

पाकिस्तान का किया गुणगान

दरअसल बच्चों को संज्ञा (नाउन) समझाने में उदाहरण पेश करते-करते टीचर भूल गईं कि उनके उदाहरणों में पाकिस्तान का गुणगान हो हो रहा है। कई बार पाकिस्तान का महिमामंडन होते देख अभिभावकों का पारा चढ़ गया और फिर शिकायत के बाद स्कूल प्रबंधन हरकत में आया।

क्या है पूरा मामला ?

लॉकडाउन के दौरान दूसरे स्कूलों की तरह जीएन स्कूल में भी वॉट्सऐप के जरिए पढ़ाई कराई जा रही है जिसमें बच्चों के पैरेंट्स के नंबर भी जोड़े गए हैं. इस स्कूल में साल 2009 से पढ़ा रही अंग्रेजी की टीचर शादाब खानम ने कक्षा 4 के बच्चों को नाउन पढ़ाना शुरू किया। उसके लिए उन्होंने उदाहरण दिया- ‘पाकिस्तान इज अवर डियर होमलैंड’ यानि पाकिस्तान हमारी प्यारी मातृभूमि है। ‘आई विल जॉइन पाकिस्तान आर्मी’ यानि मैं पाकिस्तान आर्मी में भर्ती होऊंगी और ‘राशिद मिन्हास वॉज ए ब्रेव सोल्जर’ यानि राशिद मिन्हाज एक बहादुर फौजी थे। इन उदाहरणों को देखकर अभिभावकों ने ऐतराज जताया तो स्कूल प्रबंधन के भी कान खड़े हुए।

प्रबंधन ने टीचर को सस्पेंड किया

बच्चों के सामने टीचर के पाकिस्तान प्रेम को देखकर पैरेंटस नाराज हुए तो स्कूल प्रबंधन ने पहले शिक्षिका को कारण बताओ नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण देने को कहा मगर सोशल मीडिया पर थू-थू होते देखकर बाद में शिक्षिका को सस्पेंड कर दिया गया.

शिक्षिका की सफाई- कॉपी-पेस्ट से हुई गलती

मामले के तूल पकड़ने पर शिक्षिका भी बैकफुट पर आ गई हैं। उन्होंने सफाई दी है कि गूगल से वह कुछ उदाहरण देख रहीं थीं। नाउन की छोटी परिभाषा तलाश रही थीं जिससे बच्चों को आसानी से समझ में आ जाए। उसी में यह इमेज आ गई। उन्होंने ध्यान नहीं दिया और कट-पेस्ट में गलती हो गई।

टीचर ने कहा मानवीय भूल

मुस्लिम महिला टीचर पाकिस्तान से प्रेम के आरोपों को खारिज कर रही हैं। उनके परिवार का कहना है कि वे सच्चे देश प्रेमी हैं। परिवार इसे मानवीय भूल मान रहा है। वहीं मामले के तूल पकड़ने के बाद टीचर गहरे डिप्रेशन में चली गई हैं वो बार-बार कह रही हैं कि उनकी देशभक्ति पर सवाल ना उठाए जाएं.

You may also like...