विवादों में घिरे दाती महाराज, सोशल डिस्टेंशिंग की धज्जियां उड़ाने के आरोप में केस दर्ज

विवादों में रहने वाले दाती महाराज एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार उनके शनिधाम मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ने का वीडियो वायरल हो रहा है। लॉकडाउन का उल्लंघन करने के आरोप में दाती महाराज पर दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

सोशल डिस्टेंशिंग की धज्जियां उड़ाने का वीडियो वायरल

देशभर में लॉकडाउन है। लेकिन दाती महाराज के शनिधाम मंदिर को देखकर ऐसा लगता है कि इन्हें न तो लॉकडाउन से कोई मतलब है और ना ही कोरोना के खतरे से कोई सरोकार। मंदिर का एक वीडियो इन दिनों खूब वायरल हो रहा है। जिसमें साफ साफ नज़र आ रहा है कि कैसे लोगों की भीड़ यहां मौजूद हैं।

मंदिर में उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

वायरल वीडियो दिल्ली में छतरपुर के शनिधाम मंदिर का बताया जा रहा है। जहां शनि अमावस्या के मौके पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ आई। इस भीड़ को न तो कोई रोकने वाला था और ना ही संभालने वाला। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का खुलेआम उल्लंघन किया गया। बताया जा रहा है कि देर रात तक यहां भीड़ जुटी रही। हैरानी इस बात की है कि खुद शनिधाम मंदिर के संचालक दाती महाराज भीड़ के साथ पूजा करते नजर आए।

दाती महाराज पर उठते सवाल

  • दाती महाराज ने मंदिर में पूजा का आयोजन कैसे किया?
  • क्या दाती महाराज ने प्रशासन से अनुमति ली थी?
  • दाती महाराज ने भक्तों की जिंदगी को खतरे में क्यों डाला?
  • धारा 144 के बावजूद मंदिर में भीड़ कहां से आई ?
  • दाती महाराज के खिलाफ प्रशासन ने कार्रवाई क्यों नहीं की?

वायरल वीडियो पर दाती महाराज की सफाई

उधर लॉकडाउन के दौरान नियम कायदों की धज्जियां उड़ाने वाली इस तस्वीर पर दाती महाराज की कुछ और दलील है।दाती महाराज का दावा है कि मंदिर में कोई भी बाहरी नहीं आया और मंदिर में जो लोग दिख रहे हैं वो मंदिर के ही थे।

पुलिस की शुरुआती जांच के दौरान यह पता चला कि शनिधाम मंदिर के मुख्य पुजारी दाती महाराज के साथ कुछ लोगों ने 22 मई की शाम 7:30 बजे मंदिर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया था। ऐसे में सवाल यही है कि जब देशभर में लॉकडाउन के दौरान धार्मिक स्थलों पर ताला है तो दाती महाराज को पूजा कर इतनी भारी संख्या में लोगों को बुलाने की छूट कैसे मिली

You may also like...