सोनिया गांधी का केंद्र सरकार पर प्रहार, कहा BJP फैला रही नफरत के वायरस

देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जारी लड़ाई के बीच कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस वर्किग कमिटी की बैठक में ना सिर्फ बीजेपी के फैसलों पर सवाल उठाया गया बल्कि पीपीई किट को लेकर भी केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा करने की कोशिश की गई। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गरीबों, किसानों और मजदूरों के लिए आर्थिक मदद की मांग की। साथ ही बीजेपी पर नफरत, सांप्रदायिकता का वायरस फैलाने का आरोप लगाया।

नफरत के वायरस फैला रही बीजेपी- सोनिया

सोनिया गांधी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कांग्रेस वर्किग कमिटी की बैठक को संबोधित किया. इसमें कांग्रेस के कई बड़े नेता और पदाधिकारी शामिल हुए। CWC की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कोरोना वायरस को लेकर केंद्र सरकार के इंतजामों को लेकर BJP पर कई गंभीर आरोप लगाए। सोनिया गांधी ने कहा कि मुश्किल के इस वक्त में जब हम सबको मिलकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ना चाहिए था उस समय बीजेपी नफरत के वायरस फैला रही है.

PPE किट को लेकर कांग्रेस के सवाल

सोनिया गांधी ने कहा कि केंद्र सरकार स्वास्थ्यकर्मियों को अच्छी क्वालिटी के पीपीई किट मुहैया कराने में नाकाम रही है। साथ ही सरकार रैपिड टेस्ट कराने में भी ज्यादा सफल नहीं हो पाई है। इस वक्त देश में कोरोना वायरस की जितनी टेस्टिंग की जा रही है वो भी काफी नहीं है। सरकार को इनकी संख्या बढ़ाए जाने की जरूरत है।

सरकार ने कांग्रेस के सुझावों पर ध्यान नहीं दिया

कांग्रेस की ओर से ये भी आरोप लगाया गया कि कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए विपक्ष और कांग्रेस की ओर से जो भी सुझाव दिए गए उनपर कोई ध्यान नहीं दिया गया।

गरीबों के खाते में डाले जाएं 7500 रुपये

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई बैठक के दौरान CWC में किसानों, बेरोजगारों और गरीबों का मुद्दा उठाया गाया। बैठक में केंद्र सरकार से मांग करते हुए कांग्रेस ने कहा कि लॉकडाउन के पहले चरण में ही 12 करोड़ लोग बेरोजगार हो गए और ऐसे में लोगों की मदद के लिए उनके खातों में 7500 रुपये भेजा जाना चाहिए। 

You may also like...