कोरोना से सबसे बड़ी जंग- देश में पहली बार ट्रेनों पर भी लगा ब्रेक

कोरोना का खतरा जितना बड़ा होता जा रहा है उससे लड़ाई भी उतनी ही तेज होती जा रही है..ऐसा पहली बार हो रहा है रेल सेवा को लगातार 9 दिन के लिए निलंबित कर दिया गया है

31 मार्च तक सभी यात्री ट्रेनें रद्द
रेलवे बोर्ड की बैठक में आज बड़ा फैसला हुआ जिसके मुताबिक 31 मार्च तक सभी यात्री ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है…इनमें पैसेंजर, मेल, एक्सप्रेस सभी तरह की ट्रेनें शामिल हैं..

सिर्फ मालगाड़ी ही चलेगी
हालांकि इस दौरान मालगाड़ी चलती रहेगी…ऐसा जरुरी चीजों की सप्लाई के लिये किया जा रहा है…रेलवे के मुताबिक 22 मार्च आधी रात से 31 मार्च की आधी रात तक सिर्फ मालगाड़ियां ही चलेंगी

सोशल डिस्टेंसिंग के लिये उठाया कदम
कोरोना वायरस से बचने के लिए ये फैसला लिया गया है यहां ये भी जानना जरुरी है कि भारतीय रेलवे हर रोज करीब साढ़े बारह हजार यात्री ट्रेनें चलाता है, जिसमें हर दिन औसतन ढाई करोड़ के करीब लोग सफर करते हैं

सबसे ज्यादा पैसेंजर ट्रेनें
रेलवे करीब 9000 पैसेंजर ट्रेनें और 3500 मेल एक्सप्रेस हर दिन चलाता है..इनमें लंबी दूरी वाली मेल, एक्सप्रेस, इंटरसिटी ट्रेनों के अलावा फ्लेक्सी फेयर वाली प्रीमीयम ट्रेनें भी शामिल हैं

जनता कर्फ्यू के दौरान भी ट्रेन बंद
इससे पहले जनता कर्फ्यू के मद्देनजर देशभर में 2400 पैसेंजर और लंबी दूरी की 1300 एक्सप्रेस ट्रेनें नहीं चलाई गईं रेलवे ने कोलकाता मेट्रो को भी रविवार आधी रात से 31 मार्च तक बंद रखने का आदेश दिया है..इसके अलावा मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेनें भी 31 मार्च तक रद्द कर दी गई हैं

किराया वापस करेगा रेलवे
रेलवे ने जानकारी दी है कि जिन यात्रियों ने पहले से रिजर्वेशन लिया है उनका पूरा किराया रिफंड किया जाएगा.. रेलवे ने उन यात्रियों को भी सहूलियत देने का फैसला लिया है, जो ट्रेन में रिजर्वेशन होने के बावजूद खुद यात्रा रद्द कर रहे हैं ऐसे लोग यात्रा की तारीख से 30 दिनों में ट्रेन डिपॉजिट रिसिप्ट यानी टीडीआर फाइल कर सकते हैं लेकिन अगर वो ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो उसके बाद भी अगले सात दिनों में वो सीसीएम या सीसीओ के यहां आवेदन कर सकते हैं..वहीं काउंटर से टिकट लेने वालों को 45 दिन में रिफंड किया जाएगा

ट्रेनों में मिले थे 12 संक्रमित
रेल पर ब्रेक लगाने का ये कदम अलग-अलग ट्रोनों में 12 कोरोना वायरस संक्रमित मुसाफिरों के मिलने के बाद लगाया गया है..जिन 12 यात्रियों में संक्रमण मिला था उसमें से 8 मुसाफिर 13 मार्च को आंध्रप्रदेश संपर्क क्रांति से दिल्ली से रामगुंडम जा रहे थे वहीं 16 मार्च को गोदान एक्सप्रेस से मुंबई से जबलपुर जा रहे 4 यात्री भी कोरोना संक्रमित पाए गये थे ये सभी दुबई से आए थे

You may also like...