हिंदुस्तानी बेटी के सजदे में झुका अमेरिका, न्यूयॉर्क बोला थैंक्यू इंडिया!

कोरोना संकट से जूझ रही दुनिया जहां एक तरफ हिंदुस्तान की तारीफ कर रही है वहीं न्यूयॉर्क में भारतीय डॉक्टरों का सम्मान भी हो रहा है। हिंदुस्तान की कोरोना वॉरियर के सम्मान में न्यूयॉर्क के लोग सजदा कर रहे हैं। सबसे पहले ये video देखिए

न्यूयॉर्क की इन तस्वीर को देख कर आज हर हिंदुस्तानी का सीना गर्व से चौड़ा हो गया होगा। सात समंदर पार से आई इन तस्वीरों को देख कर हर भारतवासी फख्र महसूस कर रहे होंगे। क्योंकि ये कोई आम तस्वीर नहीं बल्कि तिरंगे की शान बढ़ाने वाली तस्वीर है।

अमेरिका में डॉक्टरों की टीम मुश्किल हालात से निपटने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं। इन्हीं डॉक्टरों की टीम में हिंदुस्तान की एक बेटी भी है जो लगातार लोगों की मदद में जुटी है। भारत की इस दिलेर बेटी का शुक्रिया अदा करने के लिए न्यूयॉर्क के लोग कारों का काफिला ले कर सड़कों पर निकल पड़े।

न्यूयॉर्क ने कहा थैंक्यू इंडिया

घर के बाहर भारतीय मूल की महिला डॉक्टर उमा मधुसूदन खड़ी थी और उनके सामने से एक एक-कर कर कारों का काफिला गुजरता रहा। हर कोई भारतीय डॉक्टर का अभिवादन कर रहा था। कुछ लोगों के हाथों में थैंक्यू का पोस्टर था तो कोई उमा मधुसूदन का शुक्रिया कर रहा था। इस दौरान सड़क पर एक दो नहीं बल्कि करीब 200 गाड़ियों का काफिला इसी तरह डॉक्टर उमा मधुसूदन के सम्मान में उनके घर के सामने से गुजरा और डॉक्टर मधुसूदन सभी लोगों का अभिवानद स्वीकार करते हुए भाव विभोर हो उठीं। इस रैली में पुलिस की कार, फायर ब्रिगेड की गाड़ियों के अलावा अपनी गाड़ी से थैंक्यू कार्ड पकड़े लोग भी नजर आए।

कौन हैं डॉक्टर उमा मधुसूदन

डॉक्टर उमा मधुसूदन मैसूर की रहने वाली हैं और उन्होंने मैसूर मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री ली हुई है। डॉक्टर मधुसूदन मौजूदा वक्त में अमेरिका के साउथ विंडसर अस्पताल में काम कर रही हैं। और इन दिनों वो न्यूयॉर्क में रह रही हैं।
डॉ मधुसूदन ने बड़ी संख्या में कोरोना पीड़ितों का इलाज किया है और उन्हें ठीक भी किया है। यही वजह है कि अमेरिका के लोग उनका शुक्रिया अदा करने सड़कों पर निकले।

डॉक्टरों पर हमला करने वालों के लिए सीख है ये तस्वीर

आज भारत में 100 से ज्यादा डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ पहले ही कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं। इसके बावजूद वो अपनी जान पर खेलकर लोगों का इलाज कर रहे हैं। हाल के दिनों में उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद, बिहार के औरंगाबाद और मध्य प्रदेश के इंदौर से शर्मसार करने वाली तस्वीरें सामने आई थी. जहां पर स्थानीय लोगों ने ही इलाज करने आए मेडिकल स्टाफ पर हमला कर दिया। ये तस्वीरें देश के उन लोगों को देखने की जरूरत है जो कोरोना वॉरियर्स पर हमला करने से गुरेज नहीं करते। अगर ये मसीहा ना हो तो कोरोना छोड़िए साधारण बिमारी भी लोगों की जान को मुसीबत में डाल दे।

न्यूयॉर्क में कोरोना से बेकाबू है हालात

आज अमेरिका का न्यूयॉर्क कोरोना वायरस की मार से त्राहिमाम कर रहा है। अमेरिका में करीब 8 लाख 20 हजार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 45 हजार से ज्यादा लोग मौत के मुंह में समा चुके हैं। न्यूयॉर्क में करीब 19 हजार 7 सौ लोगों मौत के आगोश में समा चुके हैं। वहां अब भी 2 लाख 56 हजार लोग कोरोना वायरस से पीड़ित है।हालात बेकाबू हैं।

You may also like...