कोरोना की वजह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की टूटी कमर, स्टाफ के लिए जॉब हंटिंग

कोविड-19 से दुनिया में हर तरफ हालात बेहद नाजुक हैं । वैश्विक महामारी कोरोना से पूरी दुनिया तबाह है । हर मोर्चे पर लोग संघर्ष कर रहे हैं । अगर देखा जाए तो हेल्थ, इकोनॉमी और स्पोर्ट्स के क्षेत्र में लोग मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं । इप्लायमेंट के लिहाज से तो हालत बेहद खास्ता है । नौकरी पेशा लोगों की नौकरी जा रही है । वहीं सबसे धनी मनी खेल में भी खिलाड़ी और कर्मचारी बेरोजगार हो रहे हैं । इसी से जुड़ी नई खबर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से है । 

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इकोनॉमिक क्राइसिस के दौर से गुजर रहा है । आर्थिक स्थिति बेहद खराब हो गई है । क्योंकि कोरोना की वजह से सभी टूर्नामेंट जून तक रद्द हो चुका है या टाल दिया गया है । वह अपने कर्मचारियों को वेतन तक नहीं दे पा रहा है । ऐसे में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया अपने कर्मचारियों के लिए नौकरी की तलाश में जुट चुकी है ।

कर्मचारियों के नौकरी की तलाश

मंदी के दौर में अब सीए ने अपने कर्मचारियों के लिए बड़े सुपरमार्केट और अपने स्पॉन्सर वूलवर्थ जैसे बड़े संगठनों में जून तक के लिए अस्थाई तौर पर नौकरी तलाशना शुरू कर दी है । क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी केविन रॉबर्ट्स ने कहा कि मैंने वूलवर्थ के सीईओ ब्रैड बंडूची को एक पत्र लिखा है । मौजूदा समय में वूमवर्थ जैसे संगठन को कर्मचारियों की जरूरत भी है।

सीए देगा 20 फीसदी कम सैलरी

COVID-19 की वजह से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड में कंगाली जैसे हालात हैं । हाल ही में रॉबर्ट्स ने अपने स्टाफ से कहा था कि हमारे सामने आर्थिक संकट आ खड़ा हुआ है । हम किसी को भी कोई भुगतान करने की स्थिति में नहीं हैं। इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने 80 फीसदी कर्मचारियों को 30 जून तक महज 20 फीसदी वेतन देने का ऐलान किया है । साथ ही आगाह कर दिया कि कमोबेश यह स्थिति अगस्त तक रह सकती है ।

सीए के लिए उम्मीद की दो किरण

कोरोना की वजह से ऑस्ट्रेलिया में क्रिकेट को झटका लगा है । चार महीने में कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं हो पाया । अब ऑस्ट्रेलिया को इस साल दो बार बड़े बजट मिलने की उम्मीद है । पहला 18 अक्टूबर से लेकर 15 नवंबर तक T-20 वर्ल्ड कप की मेजबानी और दूसरा इस साल के आखिर में और नए साल की शुरुआत में चार टेस्ट मैचों के लिए भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया जाएगी । अगर इन दोनों इवेंट्स पर कोरोना का असर पड़ा तो ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट को जोर का झटका लगेगा ।

You may also like...