कोरोना कर्फ्यू- करना है कुछ काम,शुरु करो अंताक्षरी लेकर प्रभु का नाम

कोरोना से लड़ाई में पूरा देश एक साथ डटा नजर आ रहा है।प्रधानमंत्री की अपील का पूरे हिंदुस्तान में जबरदस्त असर दिख रहा है।सड़क बाजार रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन समेत तमाम भीड़भाड़ वाली जगहों पर सन्नाटा पसरा है

स्मृति ने छेड़ी अंताक्षरी

लोगों ने खुद को घरों में आइसोलेट कर रखा है ऐसे में केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बचपन के दिनों की याद दिलाते हुए बोरियत मिटाने के लिये ट्विटर पर अंताक्षरी शुरु कर दी। स्मृति ने ट्विटर पर कहा कि बैठे-बैठे क्या करें करना है कुछ काम शुरु करो अंताक्षरी लेकर प्रभु का नाम ।

ट्विटर पर शुरु हो गई अंताक्षरी

स्मृति ने अपने ट्वीट में लिखा कि 130 करोड़ भारतीय हैं, पता नहीं कहां से कौन-सा गाना उठे। इतनी बड़ी आबादी में से हर किसी को टैग करना मुश्किल है, तो गाइए, ट्वीट कीजिए अपनी मर्जी का गाना, यह आपकी अंताक्षरी है..फिर क्या था स्मृति ईरानी के पहले करते ही लोगों को पुराने दिन याद आ गये और शुरु हो गई ट्विटर अंताक्षरी


बढ़ चढ़ कर भाग ले रहे हैं

लोगों ने इस अंताक्षरी में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और एक से एक गाने ट्वीट करने लगे।रविवार की सुबह 11 बजे से शुरु हुई इस अंताक्षरी पर लोग वीडियो भी पोस्ट कर रहे हैं।इस वक्त ट्विटर पर #TwitterAntakshari ट्रेंड कर रहा है । कोई लिख रहा है ‘यूं ही कट जाएगा सफर साथ चलने से’, तो कोई ट्वीट कर रहा है- जिंदगी हर कदम एक नई जंग है।

अंताक्षरी में फंस गये करण जौहर

स्मृति की इस पहल पर करण जौहर ने भी अंताक्षरी में हिस्सा लिया लेकिन मजा तब आया जब एक गाने पर स्मृति ने उनकी चॉइस को गलत बताया

करण ने गाया लग जा गले गाना-
स्मृति के ट्वीट का जवाब देते हुए फिल्ममेकर करण जौहर ने लिखा कि अंताक्षरी उनकी पसंदीदा है। उन्होंने गाना दिया, लग जा गले, कि फिर ये हंसी रात हो न हो,शायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो। अब आपकी बारी
स्मृति ने खींची करण की टांग इस वक्त जहां कोरोना के कारण सोशल डिस्टेंसिंग और आइसोलेट होने की बात की जा रही ऐसे करण के ‘लग जा गले’ गाने पर स्मृति ईरानी ने करण जौहर की खिंचाई कर दी। स्मृति ने करण को जवाब दिया कि कोरोना वायरस फैला है ऐसे में उन्होंने गलत गाना चुना है।


कुल मिलाकर कहें तो इस वक्त जबकि देश में जनता कर्फ्यू लगा है और इसके आगे बढ़ने की भी काफी संभावनाएं नजर आ रही है ऐसे में ये ट्विटर अंताक्षरी वक्त बिताने के साथ ही लोगों के मनोरंजन का भी साधन है

You may also like...