मेडिकल सप्लाई के नाम पर चीन का भद्दा मजाक, कोरोनाकाल में भारत के साथ ‘डबल गेम’

दुनिया को महामारी वाला वायरस देकर लाखों लोगों को मौत की नींद सुलाने वाला चीन अब भी सुधरने को तैयार नहीं. मेडिकल सप्लाई के नाम पर चीन दुनिया के साथ भद्दा मजाक कर रहा है। पहले कई देशों को नकली पीपीई किट भेजने के बाद अब चीन से आई रैपिड टेस्टिंग किट भी उसकी तरह भरोसे पर खरी नहीं उतर पाई है.

रैपिड टेस्टिंग किट में गड़बड़ी

चीन ने भारत को जो रैपिड टेस्टिंग किट भेजी है उसमें भी गड़बड़ी सामने आई है रैपिड टेस्टिंग किट से किए जा रहे कोरोना टेस्ट की सटीक रिपोर्ट नहीं मिल पा रही है उसमें काफी उतार चढ़ाव दिखने को मिल रहे हैं. ऐसे में सवाल उठाए जा रहे हैं कि जब चीन ने पहले ही भारत समेत दुनिया भर में खराब पीपीई किट भेजे तो फिर रैपिड टेस्टिंग किट मंगाने में उस पर आंख मूंदकर भरोसा क्यों किया गया. सवाल ये भी है कि अगर इसे चीन से मंगाने के अलावा दूसरा कोई रास्ता नहीं था तो टेस्टिंग से पहले रैपिड टेस्टिंग किट की जांच क्यों नहीं की गई ?

अखिलेश ने मोदी सरकार को घेरा

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने चीन से मंगवाई गई कोरोना जांच की किट को लेकर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि बिना गुणवत्ता की जांच किए, किट को प्रयोग में लाया जाना जनता के साथ धोखा है अखिलेश यादव ने ट्वीट करके कहा है कि- ‘चीन से आयातित रैपिड टेस्ट किट को बिना गुणवत्ता की जांच किए प्रयोग में लाना जनता के साथ धोखा है। अब टेस्ट स्थगित करने वाली ICMR को इस विषय पर पहले ही चेतावनी देनी चाहिए थी। इतनी बड़ी लापरवाही पर सरकार तुरंत स्पष्टीकरण देकर बताए कि पहले जो जांच हुई हैं, उनके परिणाम कितने सटीक थे।’

सबसे पहले राजस्थान ने उठाए थे सवाल

रैपिड टेस्टिंग किट में गड़बड़ी की शिकायत सबसे पहले राजस्थान ने मंगलवार को की थी जिसके बाद से ही आईसीएमआर ने एंटीबॉडी रैपिड टेस्टिंग पर दो दिन के लिए रोक लगा दी ये रोक सिर्फ राजस्थान में ही नहीं, बल्कि बाकी राज्यों में भी लगाई गई है। अब राजस्थान के बाद यूपी ने भी इस किट पर सवाल उठाए हैं.

बदली जाएगी किट

आईसीएमआर फिलहाल इस मामले में छानबीन कर रहा है, क्योंकि कई राज्यों ने शिकायत की है कि इसके नतीजों में 6 फीसदी से 71 फीसदी का उतार-चढ़ाव दिख रहा है। आईसीएमआर ने कहा है कि ये बिल्कुल भी स्वीकार नहीं किया जा सकता इसलिए हो सकता है किट को बदलना भी पड़े.


पहले भेजे थे घटिया PPE किट
इससे पहले चीन हिंदुस्तान समेत कई देशों में इतने घटिया पीपीई किट भेज चुका है जिन्हें पहना ही नहीं जा सकता। सोशल मीडिया पर ऐसे तमाम वीडियो वायरल हो रहे हैं जिसमें चीन के भेजे पीपीई किट पहनते ही फट जा रहे हैं। 5 अप्रैल तक भारत में चीन से करीब 1.70 लाख PPE किट की सप्लाई आई थी, जिसमें से 50,000 किट क्वॉलिटी टेस्ट में खरे नहीं उतरे।

अंडरगारमेंट से बने मास्क भेजे थे

दरअसल चीन किसी का सगा नहीं मास्क के नाम पर भी चीन शर्मनाक हरकत कर चुका है बीते दिनों उसने अपने ‘सदाबहार दोस्त’ पाकिस्तान तक को अंडरगारमेंट से बने मास्क भेजकर इमरान को चूना लगाया था अब भारत के साथ भी उसने ऐसा ही भद्दा मजाक किया है.

You may also like...