कोरोना की वजह से पूरा राजस्थान हुआ लॉकडाउन, 31 मार्च तक रहेगा बंद

कोरोना वायरस की वजह से पूरा राजस्थान लॉकडाउन हो चुका है। राजस्थान पहला राज्य है जिसे पूरी तरह लॉकडाउन किया गया है। कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण को देखते हुए राजस्थान सरकार ने पूरे राज्य में 22 मार्च से 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया है। हालांकि लॉकडाउन के दौरान आवश्यक चीजें जैसे सब्जी, दूध और रोजमर्रा की जरूरत वाले सामानों की दुकानें और मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे।

शनिवार रात को मुख्यमंत्री आवास में आयोजित बैठक में CM अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना को हराने के लिए लोग सरकार के फैसले और एडवाइजरी का पूरी तरह से पालन करें ताकि हालात नियंत्रण से बाहर ना जाए। इससे पहले महाराष्ट्र, iगुजरात के कुछ शहरों में लॉकडाउन किया है। वहीं राजस्थान पूरे राज्य में लॉकडाउन लागू करने वाला पहला राज्य बन गया।

राजस्थान के झुंझुनू में 3 पॉजिटिव केस

राजस्थान के  झुंझुनू में तीन लोगों की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मच गया। ये सभी एक ही परिवार के बताए जा रहे हैं। सभी इटली से राजस्थान लौटे थे। उनकी पॉजिटिव रिपोर्ट सामने आने के बाद 350 डॉक्टरों की टीम झुंझुनी पहुंच गई। डॉक्टरों की टीम इस इलाके के पांच किलोमीटर के दायरे में स्क्रीनिंग करेगी। बिगड़ते हालात को देखते हुए प्रशासन ने पहले ही झुंझुनू में कर्फ्यू लगा दिया था। साथ ही झुंझुनू से लगे हरियाणा बॉर्डर को भी सील किया गया ।

राजस्थान में 25 मामले, अकेले भीलवाड़ा में 11

राजस्थान में शनिवार को कोरोना वायरस के 8 नए पॉजिटिव मामले सामने आए। संक्रमित लोगों में 5 भीलवाड़ा से जबकि एक जयपुर से है। जिससे पूरे राजस्थान में संक्रमित लोगों की तादाद बढ़कर 33 तक पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक अकेले भीलवाड़ा में कोरोनावायरस के 11 मामले सामने आ चुके हैं। 9 लोगों को भीलवाड़ा के महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि 2 लोगों को जयपुर के SMS अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

31 मार्च तक धारा 144 लागू

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए 31 मार्च तक धारा-144 लागू कर दिया गया है। वहीं सभी स्कूल-कॉलेज और विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं स्थगित की जा चुकी हैं।

You may also like...