दिल्ली-नोेएडा बॉर्डर पूरी तरह सील, सिर्फ इन्हें ही दी जाएगी छूट

कोरोना वायरस के चेन को तोड़ने की पूरजोर कोशिशें की जा रही हैं। लॉकडाउन के बीच हर उस छोटी-छोटी बातों पर फोकस किया जा रहा है जिससे कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके। यूपी में योगी सरकार एक्शन में है। इस बार नए फैसले के तहत दिल्ली-नोेएडा बॉर्डर पूरी तरह सील कर दिया गया। अगले आदेश तक दिल्ली-नोएडा के बीच आवाजाही पूरी तरह से बंद रहेगी।

दिल्ली-नोेएडा बॉर्डर पूरी तरह सील

गौतम बुद्ध नगर के डीएम ने कहा कि दिल्ली-गौतम बुद्ध नगर में आवाजाही करने वाले व्यक्तियों से कोरोना संक्रमण होने की संभावना ज्यादा है। लिहाजा जनता के हितों को देखते हुए अगले आदेश तक दिल्ली-गौतम बुद्ध नगर के बीच आवाजाही पर बैन लगाने का फैसला लिया गया।

दिल्ली से फैल रहा कोरोना?

गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एलवाई ने नोएडा-दिल्ली बॉर्डर को पूरी तरह से बंद करने का आदेश जारी करते हुए कहा कि जिले में पिछले कुछ दिनों में कई ऐसे लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है, जिनका संबंध किसी न किसी वजह से दिल्ली से रहा हो।डीएम ने कहा कि मेडिकल डिपार्टमेंट की रिपोर्ट में पाया गया है कि दिल्ली-जीबी नगर के बीच आने जाने वाले लोगों से संक्रमण की आशंका है। लिहाजा दिल्ली-नोएडा बॉर्डर से आवाजाही को पूरी तरह बैन किया जाता है।

किन लोगों को मिलेगी छूट

गौतमबुद्ध नगर के डीएम के आदेश के मुताबिक आवाजाही में लगाए गए प्रतिबंध में कुछ छूट भी दी गयी हैं। जिसमें कर्मचारी, सामानों का परिवहन और दूसरे वाहन के साथ विशेषज्ञ चिकित्सक भी शामिल हैं।

  •  कोरोना सेवा में कार्यरत सेवाओं में लगे दिल्ली और उत्तर प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को पास के साथ छूट होगी।
  •  जरूरी सामान लाने-ले जाने वाले हल्के/भारी वाहनों को छूट होगी
  •  एंबुलेंस सेवाएं को आने-जाने पर रोक में छूट
  •  भारत सरकार में उप सचिव या उनसे वरिष्ठ अधिकारियों को गृह मंत्रालय के पास के साथ छूट होगी।
  •  ऐसे मीडियाकर्मी जिनके पास अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (मुख्यालय) और जिला सूचना अधिकारी की ओर पास जारी किया गया हो, उन्हें आवाजाही की छूट होगी।
  •  ऐसे विशेषज्ञ डॉक्टर जिन्हें नोएडा में जरूरी और इमरजेंसी सेवाएं देनी हों, उनकी लिस्ट मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रशासन को सौंपेंगे।

मंगलवार को उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिला में कोरोना वायरस संक्रमण के 2 और मामले सामने आए। जिससे गौतमबुद्ध नगर जिला में कोरोना वायरस के मामलों की कुल तादाद बढ़कर 102 हो गई। 

You may also like...