दिल्ली से सटे नोए़डा से आया कोरोना का पांचवां मामला, सोसायटी के लोग हुए लॉकडाउन

हिंदुस्तान में भी कोराना खतरा विकराल होता जा रहा है। दिल्ली से सटे नोएडा में कोरोना संक्रमण का पांचवां केस सामने आया है। नोएडा के एक सोसायटी में कोरोना के नए केस के सामने आने के बाद से लोगों की नींद उड़ी हुई है। कोरोना खतरे को देखते हुए प्रशासन ने आनन-फानन में पूरी सोसायटी को लॉकडाउन कर दिया है।

नोएडा के सेक्टर-74 में कोरोना का पांचवा केस

दरअसल, नोएडा सेक्टर-74 की एक सोसाइटी में एक शख्स कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया। इसके साथ ही नोएडा में कोरोना वायरस के अबतक 5 मामले की पुष्टि हो चुकी है। नोएडा के डीएम ने सोसाइटी को सील करने काआदेश दिया है। प्रशासन ने सोसाइटी के लोगों को 23 मार्च तक अपने घरों में रहने के आदेश दिए हैं।

सिंगर कनिका कपूर के खिलाफ FIR दर्ज

इससे पहले यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित सिंगर कनिका कपूर के खिलाफ यूपी पुलिस ने लापरवाही बरतने के लिए FIR दर्ज की है। कनिका के खिलाफ आईपीसी की धारा 188, 269, 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है। इन धाराओं के तहत लापरवाही बरतने और संक्रमण फैलाकर दूसरों की जान संकट में डालने का मामला बनता है।

कनिका कपूर ने आरोपों पर सफाई दी

कनिका कपूर 9 मार्च को लंदन से वापस आई थीं। उनका दावा है कि एयरपोर्ट पर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग भी हुई थी लेकिन तब तक Covid-19 के लक्षण सामने नहीं आए थे। लंदन से आने के बाद कनिका कपूर ने लखनऊ में दो-तीन बड़ी पार्टियों में बतौर कलाकार हिस्सा लिया था जिनमें बड़ी संख्या में लोग शामिल थे।

यूपी में कोरोना वायरस रोकने की कवायद तेज

कोरोना वायरस से प्रभावित राज्यों में यूपी तीसरे नंबर पर है। यहां की आबादी को देखते हुए खास तौर पर एहतियात और सख्ती बरती जा रही है। सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ का दावा है कि वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश की जा रही है। यूपी में पहले ही शैक्षणिक संस्थानों, मॉल्स, रेस्टोरेंट को बंद कर दिया गया है। लोगों से घरों में रहने की अपील की गई है। यूपी की राजधानी लखनऊ पर इस दौरान सडकें सूनी नजर आ रही हैं।

कोरोना से जंग के लिए तैयारी पूरी

यूपी सरकार का दावा है कि खाने के सामान और दवाईयों की कोई कमी नहीं है। सीएम योगी ने ये भी दावा किया है कि सूबे में जरूरत के मुताबिक आइसोलेशन वॉर्ड बनाए गए हैं। यूपी सरकार ने दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए भरण-पोषण के भत्ते को मंज़ूरी दी है। वहीं नोएडा में कोरोना का मामला सामने आने के बाद दिल्ली में एहतितात बरती जा रही है।

You may also like...