क्या CPL और IPL में टलेगा टकराव?, जानने के लिए पढ़ें पूरी रिपोर्ट

कोरोना के प्रकोप का असर तो पूरी दुनिया पर दिख रहा है । इससे कई नेशनल और इंटरनेशनल प्रोग्राम प्रभावित हुए हैं । कोरोना संक्रमण की वजह से दुनिया में कई स्पोर्ट्स टूर्नामेंट को रद्द करना पड़ा या फिर टाल दिया गया है । इससे क्रिकेट के मैदान पर भी सूनापन देखने को मिल रहा है । अब चर्चा का बाजार गर्म है कि आईपीएल सितंबर-अक्टूबर में हो सकता है लेकिन कैरेबियन प्रीमियर लीग ने बीसीसीआई की मुश्किल को बढ़ा दिया है ।

कैरेबियन प्रीमियर लीग में बदलाव नहीं

यदि कोरोना महामारी से छुटकारा मिल जाता है तो इंडियन प्रीमियर लीग सितंबर-अक्टूबर में होने की अटकलें लगाई जा रही है लेकिन कैरेबियन प्रीमियर लीग के सीईओ ने स्पष्ट कहा है कि हम अपने समय में बदलाव नहीं करेंगे । सीपीएल के सीईओ पीट रसेल के मुताबिक इस टूर्नामेंट का समय पहले से अगस्त- सितंबर में तय है । इसमें  कोई बदलाव नहीं किया जाएगा । रसेल ने कहा कि बीसीसीआई के कार्यक्रम में कोरोना संक्रमण से बदलाव हुआ है। हम टकराव नहीं चाहते हैं ।

BCCI नए शेड्यूल की तलाश में

बीसीसीआई भी सीपीएल से टकराव से बचना चाहेगा क्योंकि कई खिलाड़ी ऐसे हैं जो दोनों लीग में खेलते हैं । ऐसे भी आईपीएल अनिश्चित समय के लिए टाला जा चुका है । जहां तक समय का सवाल है सितंबर में एशिया कप T20 होना है । अक्टूबर–नवंबर में T20  वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में होना है । ऐसे में सितंबर-अक्टूबर और नवंबर का महीना क्रिकेट के लिहाज से काफी व्यस्त हैं । तो कहा जा सकता है कि बीसीसीआई अपने आईपीएल के लिए नए विडो का तलाश करेगी ।       

दरअसल बीसीसीआई अपने फ्रेंचाइजी के दबाव में है क्योंकि कलरफुल आईपीएल में करोड़ो का रुपया लगा है । अगर मैच नहीं हुआ तो काफी नुकसान हो सकता है । ऐसे में दुनिया के सबसे ताकतवर क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई कैरेबियाई बोर्ड का मन टटोलने के लिए एक विंडो की बात कर रही । लेकिन पीट रसेल के बयान से तो ये साफ है कि वो आईपीएल के लिए स्पेस देने को तैयार नहीं है ।

You may also like...