देश भर में सड़कों पर मिल रहे 500-500 के नोट, कोई भी उठाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा…

देश भर में कोरोना वायरस को लेकर लोगों में दहशत का आलम है। लोग हर किसी को शक की निगाहों से देख रहे। आज देश के अलग अलग हिस्सों से सड़कों पर नोट मिलने की खबर आ रहा है। दिल्ली से लेकर राजस्थान और एमपी से लेकर झारखंड तक सड़कों पर रूपये मिलने की खबर से हड़कंप मचा है।

झारखंड की राजधानी रांची में सड़क पर फेंके मिले 500 के नोट

लॉकडाउन पार्ट-2 के एलान के बाद देश के अलग-अलग इलाकों में नोट मिलने का सिलसिला थम नहीं रहा। शुक्रवार को झारखंड की राजधानी रांची में भी ऐसा ही मामला सामने आया जब लोगों को कोकर इलाके में राम लखन सिंह कॉलेज के पास 500 रुपये का गिरा हुआ नोट मिला। नोट को सड़क पर गिरा देखकर लोग दहशत में आ गए। पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी ने नोट को बिना छुए उठाया। और नोट को जांच के लिए भेज दिया। इससे पहले रांची के नामकुम इलाके में भी नोट मिलने का मामला सामने आ चुका है।

दिल्ली में सड़क पर नोट मिलने से दहशत

देश की राजधानी दिल्ली में एक घर के बाहर जब लोगों को 500 के कई नोट पड़े दिखे तो किसी की हिम्मत नहीं हुई कि वो नोट को हाथ लगाएं। लोगों में डर था कि कहीं ये नोट कोरोना वायरस से संक्रमित तो नहीं। दरअसल बुधवार को उत्तरी दिल्ली के लॉरेंस रोड पर दोपहर 1.15 बजे एक घर के बाहर तीन गंदे नोट मिलने की खबर आई। लोगों की भीड़ जमा थी लेकिन कोई भी सड़क पर पड़े रूपयों पर दावा नहीं कर रहा था। इस बीच केशवपुरम थाने में फोन किया गया। पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और दस्ताने लगा कर नोटों को उठाया गया। नोटों को सेनेटाइज करने के बाद एक लिफाफे में पैक कर जांच के लिए भेज दिया गया।

महिला ने कोरोना से बचने के लिए बालकनी में रखे थे नोट

जिन लोगों के घर के बाहर करेंसी नोट पाए गए, उन्होंने भी सड़क पर बिखरे 500-500 रूपये पर दावा नहीं किया। हालांकि बाद में नोटों को लेकर सस्पेंस खत्म हुआ। नॉर्थ वेस्ट पुलिस उपायुक्त विजयंत आर्य ने बताया, “एक महिला चरणजीत कौर ने दावा किया कि ये नोट उसके हैं। दरअसल चरणजीत कौर शकूरपुर के एक सरकारी स्कूल में टीचर हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने एक एटीएम से विड्राल कर नोट निकाले थे। नोटों में कोरोना वायरस के डर की वजह से उन्होंने नोट को धोकर बालकनी में सूखने के लिए रखा था तभी उनके नोट हवा से उड़ गए।

एमपी के इंदौर में सड़कों पर मिला नोट

एमपी का इंदौर कोरोना वायस से सबसे ज्यादा जूझ रहा है। गुरुवार को इंदौर के दो इलाकों में नोट फेंके जाने की घटना सामने आई जिससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। सड़क पर 100, 200 और 500 रुपये के नोट बिखरे थे।

खातीपुरा इलाके में किसने फेंके नोट

गुरुवार सुबह इंदौर की खातीपुरा-गौरी नगर रोड पर स्थित चंद्रवंशीय क्षत्रिय खाती समाज धर्मशाला के पास दोपहर 12 बजे 100, 200 और 500 रुपये के करीब 25 नोट बिखरे मिले। कहा गया कि किसी कार सवार ने चलती कार से नोट फेंका और फरार हो गया। नोट मिलने की इस घटना के बाद निगम और हीरानगर थाने की पुलिस की टीमें धर्मशाला के पास पहुंची और सभी नोटों को सैनिटाइज कर जब्त कर लिया। इलाके के सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले गए, लेकिन किसी संदिग्ध वाहन या व्यक्ति के आने-जाने के सुबूत नहीं मिले हैं। 

तुकोगंज इलाके में कोरोना संक्रमित नोट मिलने की अफवाह

इंदौर के तुकोगंज इलाके में राणी सती गेट स्थित डॉक्टर बंगलो के आगे वायएन रोड पर 500 के दो नोट पड़े मिले। इलाके के लोगों ने नोटों के कोरोना संक्रमित होने की बात कही। लोगों का आरोप है कि कोरोना फैलाने के मकसद से नोट फेंके गए हैं। नोटों को सैनिटाइज करवाकर जब्त किया गया। नोट किसने फेंके इसका पता नहीं चल पाया है। पुलिस दोनों मामलों की जांच कर रही है।

हरियाणा में भी सड़क पर पड़े मिले 500 के नोट

हरियाणा के चरखी दादरी शहर में भी सड़क पर नोट मिलने से हड़कंप मच गया। बुधवार को शकुंतला भवन के पास एक गली में 500 रुपए के दो नोट गिरे मिले जिससे इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस ने नोटों को अपने कब्जे में ले लिया और इस मामले की जांच शुरू कर दी है।

You may also like...