कोरोना के बीच बॉलीवुड में भी ‘हिंदू-मुसलमान’, अशोक पंडित और जावेद अख्तर के बीच ट्विटर वॉर

एक तरफ जहां पूरा हिंदुस्तान एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। वहीं कुछ शहरों में कोरोना वॉरियर्स पर हो रहे हमलों के बीच देश में मजहबी कड़वाहट के बीच भी पनप रहे हैं। हैरानी की बात तो ये है कि बॉलीवुड भी इससे अछूता नहीं है। इसका एक उदाहरण तब सामने आया जब निर्माता अशोक पंडित और गीतकार जावेद अख्तर के बीच सोशल मीडिया पर बहस हो गई। अशोक पंडित ने तबलीगी जमात पर जावेद की चुप्पी पर सवाल उठाए तो जावेद अख्तर ने भी जवाब देने में देर नहीं लगाई.

ऐसे हुई शुरूआत

बहस कि शुरुआत जावेद अख्तर के एक ट्वीट के बाद हुई जिसमें जावेद ने बीएमसी की तारीफ करते हुए अच्छा काम करने के लिए उसे धन्यवाद दिया। जावेद अख्तर ने अपने ट्वीट में लिखा कि- ‘इन्होंने किसी भी अन्य शहर यहां तक कि भारत के किसी भी अन्य राज्य की तुलना में सबसे अधिक कोरोना टेस्ट किए हैं, यही वजह है कि यहां सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमितों का पता चला है और उन्हें उपचार के लिए भेजा दिया गया है, जो कोरोना से लड़ने और उसे हराने में सबसे प्रभावी है। धन्यवाद बीएमसी।’

अशोक पंडित ने कसा तंज

 जावेद अख्तर के इस ट्वीट पर अशोक पंडित ने तंज कसते हुए लिखा, ‘सर मैं बीएमसी द्वारा किए गए महान काम के लिए आपकी सराहना का समर्थन करता हूं लेकिन फिर भी तबलीगी जमात के निरंतर आतंकी कृत्य की निंदा करने के लिए आपका इंतजार कर रहा हूं। मुझे यकीन है कि आपने मुरादाबाद की तस्वीरों को भी देखा होगा। बर्बर हमलों पर आपकी यह आपराधिक चुप्पी क्यों?’

अशोक पंडित को जावेद का जवाब

अशोक पंडित ने तबलीगी जमात और मुराबाद पर जावेद अख्तर की चुप्पी पर तंज कसा तो जावेद अख्तर ने भी जवाब देने में देर नहीं लगाई जावेद अख्तार ने लिखा- ‘अशोक जी सीधी बात कीजिए। क्या आप जो मुझे बरसों से जानते हैं सोचते हैं मैं कम्युनल हूं। कोई और पूछता तो पूछता, आप जो मेरे दोस्त हैं क्या आप नहीं जानते कि मेरा तबलीगी जमात जैसी हर संस्था चाहे मुस्लिम हो या हिंदू के बारे में क्या सोचना है।’

बैकफुट पर अशोक पंडित

जावेद के इस जवाब के बाद अशोक पंडित बैकफुट पर नजर आए उन्होंने लिखा- ‘सर मैं आपको जानता हूं और आपकी दिल से इज्जत भी करता हूं और इसलिए हैरान हूं कि आपने अब तक तबलीगी जमात को पब्लिकली क्यों नहीं लताड़ा। गलत चीजों के खिलाफ आवाज उठाना तो आपसे ही सीखा है। इन आतंकवादियों पर आपकी खामोशी थोड़ी बहुत खल गई।’

ट्रोलर को जावेद का जवाब

अशोक पंडित और जावेद अख्तर की इस बहस के बीच जब एक एस बी त्यागी नाम के एक ट्रोलर ने भी जावेद अख्तर पर सवाल उठाए तो जावेद अख्तर ने उसे भी करारा जवाब दिया और लिखा कि- ‘यही बात तो मेरी तुम्हारे जैसों को खटकती है कि मैं हिंदू और मुस्लिम दोनों में जो कट्टरपंथी हैं उनके खिलाफ अवाजा उठाता हूं। एक लोग मुझे काफिर कहते हैं और दूसरे जेहादी। जब तक दोनों तरफ से गाली आ रही है मुझे यकीन है कि मैं कुछ ठीक कर रहा हूं।’

इससे पहले भी नागरिकता कानून को लेकर कभी सुब्रमण्यम स्वामी तो कभी बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या की जावेद अख्तर के साथ ट्विटर पर बहस हो चुकी है. हम आपको बता दें कि कोरोना काल में जिस तरह तबलीग से जुड़े लोग परेशानी पैदा कर रहे हैं और मुरादाबाद में जिस तरह एक खास समुदाय के लोगों ने मेडिकल टीम को निशाना बनाया गया उस पर सलमान खान ने भी नाराजगी जाहिर करते हुए एक वीडियो पोस्ट किया है जो काफी सुर्खियों में है. अशोक पंडित का सवाल भी शायद यही है कि जब सलमान जैसे लोग इसके खिलाफ बोल रहे हैं तो फिर जावेद चुप क्यों है ?

You may also like...