चीन में फिर से सिर उठाने लगा कोरोना, वुहान में बिना लक्षण वाले 574 केस, 1.1 करोड़ लोगों की जांच शुरू

दुनिया में कोरोना फैलाने वाला चीन एक बार फिर कोरोना की आहट से सकते में है। चीन ने खुद को कोरोना फ्री बता दिया था। लेकिन चीन में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के नए क्लस्टर मिलने से प्रशासन सकते में है।

वुहान में लौटा ‘मौत का वायरस’!

चीन में एक बार फिर 15 नए मामले सामने आने की पुष्टि हुई है। 8 मरीज ऐसे हैं जिनमें कोरोना के कोई भी लक्षण मौजूद नही हैं। जानलेवा वायरस का सेंटर वुहान शहर ही है। नए मामले सामने आने के बाद प्रशासन ने वुहान सिटी के 1.1 करोड़ निवासियों की जांच की घोषणा की है।

चीन से तबाही का एक और सिग्नल

एक रिपोर्ट के मुताबिक वुहान शहर प्रशासन ने अपने सभी निवासियों का परीक्षण करने के लिए 10 दिन का प्लान तैयार किया है। मंगलवार तक हुबेई प्रांत में वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 4,512 थी। जिसमें राजधानी वुहान में 3,869 लोग शामिल थे।

वुहान में फिर जागा ‘कोरोना शैतान’

वहीं हुबेई प्रांत में अब तक कुल 68,134 कोरोना वायरस संक्रमितों की पुष्टि हुई है। जिनमें 50,339 मरीज अकेले वुहान में हैं। सोमवार से ही इलाके में इमर्जेंसी रेस्पॉंस लेवल को लो से बढ़ाकर मीडियम कर दिया गया था।आसपास के करीब 5 हजार लोगों की न्यूक्लिक एसिड टेस्ट के जरिए सक्रीनिंग की जाएगी।

कोरोना वायरस बदल रहा अपना रूप

चीनी सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के चीफ़ एपिडॉमॉलिजिस्ट वू जुनयो का कहना है कि निगेटिव टेस्ट आने के बाद फिर से नए मामलों के आने के बाद सरकार हाई अलर्ट पर है। जहां एक तरफ कई देशों ने अपने यहां लॉकडाउन में छूट देनी शुरू कर दी है। तो वहीं इसके साथ दूसरे दौर के संक्रमण का ख़तरा अधिकारियों के लिए सिरदर्द बना हुआ है।

कोरोना की गिरफ्त में आए लॉन्ड्री कर्मचारी

चीन के जिलिन प्रांत में भी कम से कम 11 केस एक स्थानीय लॉन्ड्री कर्मचारी से जुड़े हुए मिलने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। रूस की सीमा के नजदीक स्थित जिलिन प्रांत के शुलान शहर में 17 लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद चीनी सरकार ने देरी न करते हुए शहर में लॉकडाउन और यात्रा प्रतिबंधों की घोषणा कर दी है।

क्या एक ही सोर्स से फैला कोरोना वायरस

जानकारी के मुताबिक ये संक्रमण किसी एक ही सोर्स से फैला है और फिलहाल ये संक्रमण कहां तक पहुंचा है। इसकी जांच की जा रही है। चीन ने पिछले ही हफ्ते देश के सभी जिलों को कोरोना संक्रमण के मामले में लो रिस्क जोन घोषित किया था। शुलान के अलावा भी चीन में 5 अन्य लोकल ट्रांसमिशन के केस मिले हैं. CGTN के मुताबिक शुलान में लोगों से घरों में रहने की अपील की जा रही है।

चीन ने कोरोना वायरस संक्रमण पर काबू पा लिया था और इसके बाद यहां जिंदगी पटरी पर लौटने लगी थी। स्कूल और बाजार खुल गए थे और सड़कों पर चहल-पहल बढ़ गई थी। लेकिन एक बार फिर यहां कोरोना के केस समूहों में मिलने लगे हैं और इससे संक्रमण के दूसरे दौर की शुरुआत के तौर पर देखा जा रहा है।

You may also like...