मौत के वायरस कोरोना से ज़ंग जारी-भारत में अबतक 10 रोगी हुए ठीक

मौत बांटने वाली कोरोना से पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है । WHO ने यूरोप को कोरोना का सेंटर बताया है जहां इटली में भयानक हालात हो चुके हैं । जबकि अमेरिका में राष्ट्रीय इमरजेंसी घोषित किया जा चुका है । यूरोपीय देश स्पेन ने भी राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दी है ।

भारत से राहत वाली ख़बर

इन खौफ़नाक हालातों के बीच भारत से राहत की एक बड़ी ख़बर है । भारत में अबतक 10 मरीज़ ठीक हो चुके हैं । केरल में 3 का सफलतापूर्वक इलाज़ पहले ही हो चुका था जबकि 7 रोगी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं । हालांकि ठीक हो चुके सभी रोगी अभीतक अस्पताल में ही हैं । सरकार पूरी तरह एहतियात बरत रही है ।

अबतक 82 मामले और 2 की मौत

भारत में कोरोना से ग्रसित लोगों की कुल संख्या 82 हो गयी है , जिसमें 2 लोगों की मौत हो गयी है जिसमें दिल्ली में शुक्रवार को एक 69 वर्षीय कोरोना पीड़ित महिला की मौत भी शामिल है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने एक बयान जारी कर बताया कि अभीतक देश में 82 मामलों की पुष्टि हुई है । इनमें सात लोग ठीक हो चुके हैं । भारत में कोरोना का सबसे पहला केस केरल से था । वहां 3 लोगों में कोरोना के वायरस की पुष्टि हुई थी जो इलाज़ के दौरान पूरी तरह ठीक हो कर घर जा चुके हैं । दूसरे 7 ठीक हुए मरीज़ सफदरजंग अस्पताल दिल्ली में हैं हालांकि अभीतक उन्हें घर नहीं भेजा गया है।

सरकार एलर्ट , सघन स्क्रीनिंग जारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत में एयरपोर्ट और बन्दरगाहों पर बाहर से आने वालों की स्क्रीनिंग की जा रही है । कुल मिलाकर 15 लाख से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है । विभाग ने बताया कि कोरोना से पीड़ित मामलों में भारतीयों की संख्या 65 है जबकि 16 इतालवी और 1 कनाडा के नागरिक है । इसके अलावा इनके साथ सम्पर्क में आये लोगों की जांच जारी है और ऐसे 4000 लोगों को निगरानी में रखा गया है ।

डॉक्टरों की टीम को इटली भेजा गया

सरकार ने कोरोना वायरस से बुरी तरह देशों से अपने नागरिकों को एयरलिफ़्ट किया है । सबसे अधिक नागरिक चीन और ईरान से वापस आये हैं ।

एयरलिफ़्ट की तैयारी

लव अग्रवाल ने जानकारी देते हुए कहा कि अब तक ईरान से 1,199 नमूनों को एकत्र किया गया है और परीक्षण के लिए भारत लाया गया है। मोदी सरकार के द्वारा स्वास्थ्य मंत्रालय से डॉक्टरों की एक टीम को इटली भेजा गया है ।

घबराए नहीं, सतर्क रहें

1.बाहर निकलने वक्त पूरी सावधानी बरतें , जब बेहद ज़रूरी हो तभी बाहर निकलें ।

2.भीड़ वाली जगहों पर जाने से पूर्णतः बचें , सबसे अधिक ख़तरा ऐसे ही जगहों से होता है ।

3.चेहरे पर मास्क ज़रूर लगाएं , मास्क नहीं होने की स्थिति में किसी सूती कपड़े को दो तीन लेयर बना कर उपयोग करें। इससे भी पूरी तरह से बचाव सम्भव है।

4. बड़े रुमाल को तीन चार लेयर कर उपयोग में ला सकते हैं ।

5. हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करें , जिसमें अल्कोहल की मात्रा हो ।

6. नहाने का सामान्य साबुन भी हैंड वाश के लिए उपयोग करें । ख़ासतौर से बिना ग्लिसरीन वाली भी इंफेक्शन को दूर करने के लिए बेहतरीन है ।

7.कोरोना के लक्षण बिल्कुल निमोनिया जैसे होते हैं , अतः ऐसे लक्षण दिखें तो पहले खुद को अन्य लोगों से अलग करें फिर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें । विशेष तौर पर यदि कहीं बाहर से आने के बाद ऐसा महसूस हो ।

दुनिया के सबसे अधिक प्रभावित 10 देश भारत में कुुल प्रभावित लोग-82 और मौत-2

14 तारीख शनिवार तक की संख्या

You may also like...