कोरोना वायरस से पीड़ित डॉक्टर की ‘लाइव’ कमेंट्री : आप भी जानिए पल पल हो रहे शरीर में बदलाव को

कोरोना ने पूरी दुनिया को गिरफ्त में ले लिया है । हालात ने लोगों को खौफ़ में डाल दिया है । ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक इससे होने वाली मौत का आंकड़ा 5000 पर कर चुका है । चीन के बाद इस मौत के वायरस ने ईरान और इटली में हालात बेकाबू कर दिए हैं ।

डॉ. येल चुंग चेन

स्पेन के डॉक्टर कोरोना वायरस पीड़ित,कर रहे ट्विटर पर कमेंट्री

स्पेन के 35 वर्षीय डॉक्टर येल तुंग चेन को कोरोना पॉज़िटिव पाया गया है । डॉक्टर चेन ने बताया कि स्पेन के मेड्रिड में यूनिवर्सिटी ला पेज़ में मरीजों के इलाज़ के दौरान ही कोरोना से खुद भी पीड़ित हो गए। डॉक्टर ने अपने ट्विटर हैंडल पर खुद इस बात की जानकारी दी ।

ट्विटर पर बता रहे हैं अपना हाल

डॉक्टर चेन अपने हेल्थ का अपडेट के पल पल की ख़बर पूरी दुनिया को बता रहे हैं । चेन ने बताया कि इसका मकसद पूरी दुनिया को इसके असर से परिचित करवाना है ।

डॉक्टर चेन का कोरोना से जूझते हुए पहला दिन

पहले दिन चेन ने ट्विटर पर बताया कि गले में खराश है, सुखी खांसी के साथ बहुत तेज़ सरदर्द भी है । हालांकि सांस सामान्य गति से चल रहे हैं और कोई समस्या नहीं है । फेंफड़े के अल्ट्रासाउंड का रिपोर्ट अभी बाकी है ।

दूसरा दिन और हालात थोड़ा बेहतर

डॉक्टर चेन ने ट्वीट किया आज हालात थोड़ा बेहतर है , कफ और सुखी खांसी में थोड़ा आराम है । सांस लेने की समस्या नहीं है ।

तीसरा दिन और डॉक्टर चेन

तीसरे दिन के हालात बयां करते हुए उन्होंने लिखा कि गले की समस्या लगातार ठीक है और कोई दिक्कत नहीं है । कल थोड़ा कफ की समस्या थी लेकिन सांस लेने में और दर्द की कोई तकलीफ़ नहीं है । आज डायरिया शुरू हो गया है लेकिन खुश हूं कि कफ़ में कमी आयी है ।

चौथे दिन समस्या थोड़ी बढ़ी

चौथे दिन के ट्वीट में डॉक्टर ने बताया कि आज कफ़ ज़्यादा है और थकान भी काफ़ी महसूस हो रही है लेकिन सांस लेने में अभी भी तकलीफ़ नहीं है ।

पत्नी और बच्चों से हैं दूर

डॉक्टर ने बताया कि जैसे ही उनका टेस्ट पॉज़िटिव आया , उन्होंने खुद को अपने घर मे ही एक कमरे में बंद कर लिया । पत्नी और बच्चों को खुद से दूर रखा ताकि उनका बचाव हो सके । मैं घर में किसी से नहीं मिल पा रहा और यह मेरी ज़िंदगी का सबसे ख़राब क्षण है ।

ग़ौरतलब है कि कोरोना से प्रभावित लोगों की संख्या 80 हज़ार पर कर चुकी है । चीन के बाद सबसे अधिक प्रभावित देशों में से इटली और ईरान हैं । जबकि भारत मे एक मौत के अलावा प्रभावित लोगों की संख्या लगभग 75 हो चुकी है ।

You may also like...