CORONA LIVE: देश में जारी होगा लॉकडाउन-4, अर्थव्यवस्था को मिली 20 लाख करोड़ की संजीवनी

कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिर एक बार फिर देश को संबोधित किया। जैसे ही घड़ी की सुई रात के 8 बजने का इशारा किया। प्रधानमंत्री मोदी देश के सामने आए। उन्हें देश को संबोधित करते हुए कहा दुनिया के 42 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हुए। भारत में कई परिवारों ने अपनों को खोया। एक वायरस ने दुनिया को तहस नहस किया। करोड़ों लोगो की जिंदगी तहस नहस हुई। मानव जाति के लिए ये सबकुछ अकल्पनीय है।

नए नियमों के साथ लागू होगा लॉकडाउन-4

पीएम मोदी ने कहा कि लॉकडाउन 4 शुरू होगा जिसकी गाइडलाइंस के बारे में 18 मई से पहले बता दिया जाएगा।

थकना, हारना, टूटना बिखरना मंजूर नहीं

पीएम मोदी ने कहा कि हमें बचना भी है और आगे बढ़ना भी है। कोरोना संकट के बीच पीएम ने 21वीं सदी के भारत के लिए आत्मनिर्भर भारत बनने का नारा दिया। राष्ट्र आज अहम मोड़ पर है। भारत ने आपदा को अवसर में बदल दिया।

भारत ने आपदा को अवसर में बदला

पीएम ने कहा कि कोरोना से पहले ना तो पीपीई किट भारत में बनती थी और ना ही N-95 मास्क का बड़े पैमाने पर उत्पादन होता था। आज रोज 2 लाख N-95 मास्क बन रहे हैं। पीएम ने कहा कि भारत के हर अभियान का दुनिया पर असर पड़ा है। भारत की दवाईयां नई आशा लेकर आई।

भारत विश्वकल्याण की राह पर अटल

पीएम ने कहा कि भारत के पास टैलेंट के साथ सामर्थ्य है। भारत हर मुश्किल हालात से निपटा है और निपटता रहेगा। पीएम ने कच्छ भूकंप का उदाहरण देते हुए कहा कि हमने मुश्किल हालत से अच्ठी तरह निपटा है। पीएम ने कहा कि कोई लक्ष्य असंभव नहीं, आज चाबी भी है और राह भी।

अर्थव्यवस्था के लिए 20 लाख करोड़ रूपये की संजीवनी

पीएम मोदी ने देश के लिए आत्मनिर्भर अभियान के लिए आर्थिक पैकेज देने की घोषणा की। 20 लाख करोड़ रूपये के पैकेज की घोषणा करते हुए पीएम ने कहा कि हिंदुस्तान की जीडीपी का 10 फीसदी होगा आर्थिक पैकेज।

इकॉनोमी बदलेगी, देश खुशहाल होगा

कुटीर उद्योग, लधु, मध्यम उद्योग को मजबूत करने के लिए पैकेज दिया गया है। पीएम ने कहा ये आर्थिक पैकेज मजदूर और किसान के लिए है जिसने खून पसीने से देश को सींचा है। उस मध्यम वर्गीय लोगों के लिए हैं जिनके टैक्स से भारत विकास की राह में आगे बढ़ता रहा है। पीएम ने कहा कि आर्थिक पैकेज आत्मनिर्भर भारत की अहम कड़ी साबित होगी। लैंड, लेबर, लिक्विडिटी और लॉ पर जोर दिया गया

देश में बने सामान को प्रोत्साहन देने की अपील

पीएम ने लोकल ब्रांड को ग्लोबल ब्रांड बनाने पर जोर दिया। पीएम ने कहा कि हमें आर्थिक शक्ति बनना है तो हमें देश में बने उत्पादों पर जोर देना होगा।

पिछले 2 महीने में पीएम का 5वां विशेष संबोधन

पिछले दो महीनों में प्रधानमंत्री मोदी का ये देश को पांचवां विशेष संबोधन है। जिसमें कोविड-19 प्रकोप के बाद का उनका वीडियो मैसेज भी शामिल है। पीएम मोदी का राष्ट्र को संबोधन ऐसे वक्त में हुआ, जब एक दिन पहले ही उन्होंने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरीए बैठक की। सोमवार को प्रधानमंत्री मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कोविड-19 और लॉकडाउन के विषय पर चर्चा की थी।

जनता कर्फ्यू से हुई थी लॉकडाउन की शुरुआत

प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे पहले 18 मार्च को राष्ट्र को संबोधित कर लोगों से 22 मार्च को सुबह 9 बजे से रात 9 बजे के बीच ‘जनता कर्फ्यू’ का पालन करने की अपील की थी। इसके बाद प्रधानमंत्री ने 24 मार्च को कोविड-19 संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी। बाद में 14 अप्रैल को प्राधानमंत्री मोदी ने लॉकडाउन को 19 दिनों तक बढ़ा कर 3 मई तक कर दिया था। हालांकि, सरकार ने इसके बाद भी 17 मई तक दो और सप्ताह के लिए लॉकडाउन के विस्तार की घोषणा की थी।

You may also like...