पटियाला में निहंगों का तांडव, तलवार से काट डाली एएसआई की कलाई, करना पड़ा कमांडो ऑपरेशन

बीते दिनों देश के अलग-अलग इलाकों से कोरोना वॉरियर्स पर हमले की कई छिटपुट घटनाएं सामने आई लेकिन रविवार की सुबह जो पंजाब के पटियाला में हुआ उससे हड़कंप मच गया, यहां निहंगों के एक ग्रुप ने पुलिस टीम पर हमला करके एक एएसआई की कलाई काटकर हाथ से अलग कर दी.

कर्फ्यू पास मांगने पर भड़के निहंग

ये घटना पटियाला शहर की सब्जी मंडी में हुई जहां एक गाड़ी में सवार होकर 5 निहंग सब्जी लेने पहुंचे थे यहां मंडी स्टाफ ने जब उनसे कर्फ्यू पास मांगा तो निहंग भड़क गए पास ना होने पर उन्होंने पहले सब्जी मंडी पर तैनात स्टॉफ से झगड़ा किया और फिर अपनी गाड़ी से बैरिकेडिंग तोड़कर भागने की कोशिश की जिसके बाद वहां मौजूद पुलिस ने निहंगों की गाड़ी को घेर लिया और जैसे ही पुलिस ने निहंगों की गाड़ी रोकी तो हाथों में तलवार लिये निहंगों ने पुलिस पर ही हमला कर दिया इसी हमले में एएसआई हरजीत सिंह की कलाई कटकर अलग हो गई.

मौके पर डटे रहे एएसआई

निहंगों के हमले के बाद भी एएसआई हरजीत मौके पर डटे रहे उन्होंने खुद ही जेब से रूमाल निकालकर अपने हाथ पर बांधा जिसके बाद पास ही के एक शख्स ने उन्हें कटकर सड़क पर पड़ी कलाई लाकर वापस दी, इसके बाद एएसआई ने एंबुलेंस का इंतज़ार नहीं किया और स्कूटी से वो अस्पताल पहुंचे जहां से उन्हें चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया जहां उनकी सर्जकी की गई.

गुरुद्वारे से भी की फायरिंग

निहंगों के इस हमले में एएसआई के साथ ही एक एसएचओ और एक सिपाही भी जख्मी हो गया उधर पुलिस पर हमला करने के बाद निहंग भागकर गुरुद्वारे में जा छुपे और वहां से भी वो पुलिस पर फायरिंग करने लगे.

कमांडो ने किया काबू

ये सभी निहंग बलबेड़ा इलाके में स्थित गुरूद्वारा खिचड़ी साहब के थे पुलिस जब इनका पीछा करते गुरुद्वारा पहुंची तो पटियाला जोन के आईजी ने उन्हें सरेंडर करने को कहा लेकिन निहंग इस पर भी नहीं माने और उल्टे पुलिस वालों को ही धमकियां देने लगे बाद में निहंगों की फायरिंग के बीच कमांडो को गुरुद्वारे के अंदर भेजा गया तब जाकर कहीं निहंगों पर काबू पाया जा सका.

गुरुद्वारे में मिला तमंचा और तलवार

पुलिस के मुताबिक डेरे में निहंग बलविंदर सिंह के अलावा उसका बेटा, पत्नी और समर्थक रहते हैं गुरुद्वारे में कमांडो ऑपरेशन के दौरान डेरे के प्रमुख बलविंदर को गोली लगी है गुरुद्वारे से पुलिस ने दो महिलाओं समेत कुल 9 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक गुरूद्वारे से देसी पिस्तौल के साथ ही तलवार, पेट्रोल और भांग की 7 बोरियों के साथ ही केमिकल जैसा एक लिक्विड भी बरामद हुआ है. साथ ही गुरुद्वारे से 35 लाख से ज्यादा कैश भी मिला है.

निहंग समुदाय प्रमुख ने बताया गुंडा

पटियाला में इस दुस्साहसिक घटना के सामने आने के बाद निहंग समुदाय के प्रमुख 96 किरोड़ी बाबा बलबीर सिंह ने कहा कि हमलावरों का पहनावा जरूर निहंगों जैसा था लेकिन उनका समुदाय ऐसा नहीं है लाचारों की मदद के लिए निहंग समुदाय बना है, बाबा बलबीर सिंह ने हमलावरों को गुंडा करार दिया है.

You may also like...