हिंदुस्तान का दम देख ‘ड्रैगन’ का निकला दम, भारत के फाइटर जेट्स को देख कर भागे चीनी सेना के हेलिकॉप्टर

चालबाज चीन अपनी फितरतों से बाज नहीं आ रहा। सिक्किम के बाद चीन ने लद्दाख सीमा के पास हिमाकत दिखाने की कोशिश की जिसका उसे करारा जवाब मिला है। उत्तरी सिक्किम के ना कुला सेक्टर के पास भारतीय सेना के जवानों और चीनी पीपुल्स लिबरेशन यानी PLA के जवानों के आमने-सामने आने के बाद अब लद्दाख सीमा पर चीनी चॉपर्स के देखे जाने का मामला सामने आया है। जिससे भारत-चीन सीमा पर तनाव काफी बढ़ गया है।

LAC के करीब आए चीनी हेलिकॉप्टर

चीनी हेलीकॉप्टर लद्दाख में LAC यानी लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल के बिल्कुल पास उड़ रहे थे। चीनी हेलीकॉप्‍टर की इस मूवमेंट को रोकने के लिए हिंदुस्तान की वायु सेना के फाइटर जेट्स ने मोर्चा संभाल लिया और इलाके में गश्त लगाई। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, ‘चीन के सैन्य हेलीकॉप्टर लद्दाख की वास्तविक नियंत्रण रेखा के बहुत करीब उड़ान भर रहे थे। उनके मूवमेंट को खत्म करने के बाद, भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने इलाके में गश्त बढ़ा दी.’

कोरोना काल में चीनी साजिश

सूत्र के मुताबिक लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर ये तनातनी पिछले हफ्ते लद्दाख और उत्तरी सिक्किम में हुई थी। पिछले दिनों उत्तरी सिक्किम के नाकुला सेक्टर के पास भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरें आईं थी। सूत्रों के हवाले से बताया गया कि दोनों पक्षों के बीत हुई झड़प में सैनिकों को मामूली चोटें आईं। हालांकि, बाद में स्थानीय स्तर पर बातचीत के बाद सैनिकों को हटा दिया गया था।

चीन की हर चाल होगी नाकाम

आज जब कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी दुनिया जूझ रही है। वहीं चीन अपने साम्राज्यवादी एजेंडे को साधने में जुटा है। हालांकि, भारतीय सेना किसी भी दुश्‍मन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हर समय तैयार रहती है।

कोरोना से ध्यान भटकाने के लिए चीन ने चली चाल

माना जा रहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर लग रहे आरोपों से दुनिया का ध्यान भटकाने के लिए चीन ने चाल चली है। साथ ही ये भी कहा जा रहा है पाकिस्तान का समर्थन देने के लिए चीन दबाव की रणनीति पर काम कर रहा है। हांलाकि चीन कुछ भी दांव और कुछ भी पैंतरा आजमा लें, भारत के खिलाफ उसकी एक भी साजिश कामयाब नहीं हो पाएगी।

You may also like...