रामायण के ‘ब्रह्मास्त्र’ से कोरोना परास्त ! दूरदर्शन के दुख भरे दिन बीते

कोरोना काल ने पूरी दुनिया के सामने भले ही बड़ा संकट खड़ा कर दिया हो लेकिन इसी कोरोना के कारण दूरदर्शन के दिन फिर गए हैं जो दूरदर्शन कभी दर्शकों के लिए तरसता था , बाकी मनोरंजन चैनलों के आगे कहीं नहीं टिकता था उसी दूरदर्शन ने अच्छे अच्छे चैनल्स को कहीं पीछे छोड़ दिया है.

रामायण-महाभारत ने किया कमाल

लॉकडाउन के दौरान दूरदर्शन पर रामायण और महाभारत जैसे सीरियल दिखाने का दूरदर्शन का फैसला जबरदस्त कामयाबी लेकर आया है दर्शक रामायण और महाभारत जैसे सीरियल्स के सामने दूसरे चैनलों को भाव नहीं दे रहे हैं और यही कारण है कि टीआरपी में दूरदर्शन लंबी छलांग लगाते हुए सबसे ज्यादा देखे जाने वाला चैनल बन गया है.

दर्शकों में 40,000% का उछाल

राम जी ने दूरदर्शन का किस कदर उद्धार किया है उसे इस आंकड़े से समझिए , टीआरपी बताने वाली संस्था बार्क यानी ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल के मुताबिक सुबह और शाम के बैंड में दूरदर्शन के दर्शकों की संख्या तकरीबन चार हजार प्रतिशत तक बढ़ गई है जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है.

पुराने धारावाहिक साबित हुए सुपरहिट

दूरदर्शन के अच्छे दिन लाने वाले सीरियल्स में रामायण और महाभारत का तो हम रोल है ही दूसरे कई लोकप्रिय सीरियल के प्रसारण ने भी दूरदर्शन के लिए दर्शक बटोरे हैं. दूरदर्शन पर इस वक्त बुनियाद, शक्तिमान और व्योमकेश बख्शी जैसे पुराने सीरियल भी दिखाए जा रहे हैं इनमें से ज्यादातर तब बने थे जब टीवी की दुनिया में दूरदर्शन का एक छत्र राज था.

मोदी की अपील का असर

बार्क के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पिछले रविवार को रात 9 बजे लाइट बंद करने की अपील का भी असर व्यूअरशिप पर देखने को मिला है उस दिन साल  2015 के बाद से उस टाइम सेगमेंट में (रात 9 बजे ) सबसे कम टीवी देखा गया लोगों ने टीवी देखने की जगह दीया और मोमबत्ती जलाए.

टीवी की व्यूअरशिप बढ़ी

रिपोर्ट के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान टीवी की व्यूअरशिप भी काफी बढ़ी है पिछले हफ्ते ही तुलना में टीवी व्यूअरशिप करीब 4 परसेंट बढ़ी, जबकि कोरोना और लॉकडाउन के पहले की अवधि की तुलना में टीवी व्यूअरशिप में करीब 43 फीसदी की बढ़त दर्ज हुई. बार्क की इस रिपोर्ट में ये भी सामने आया है कि 28 मार्च से 3 अप्रैल तक समाचार और मूवी चैनल की व्यूअरशिप में भी अब तक का सबसे तेज उछाल आया है मूवी चैनल्स ने तो एंटरटेनमेंट चैनल्स को भी पीछे छोड़ दिया है.

स्‍पोर्ट्स चैनल भी सुपरहिट

इस वक्त पूरा हिंदुस्तान लॉकडाउन है ऐसे में लोग घर पर बैठकर पुराने मैचों का मजा भी ले रहे हैं बार्क की रिपोर्ट के मुताबिक किसी नए खेल का आयोजन ना होने के बावजूद स्पोर्ट्स चैनलों के दर्शक 21 फीसदी तक बढ़ गए हैं. दरअसल स्पोर्ट्स चैनल्स पर भारत के पुराने और मशहूर विनिंग क्रिकेट मैच के साथ ही WWE के मैच भी प्रसारित किए जा रहे हैं जिन्हें दर्शक बड़े चाव से देख रहे हैं.

You may also like...