42 साल के वसीम जाफर ने क्रिकेट को कहा अलविदा…25 साल तक रहा करियर

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वसीम जाफर ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। अब उन्होंने क्रिकेट के हर फॉरमेट को अलविदा कह दिया है। 42 साल के वसीम जाफर ने 1996-1997 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में कदम रखा। मुंबई के इस ओपनिंग बैट्समैन ने करीब 25 साल तक क्रिकेट के हर फॉरमेट जमकर खेला।

दमदार ओपनर रहे वसीम जाफर

भारत के पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज वसीम जाफर ने 2006 में अपना पहला टेस्ट साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला और केप टाउन में 116 रनो की पारी खेली।

वसीम जाफर का क्रिकेट करियर

जाफर ने 31 टेस्ट मैचों में 34.11 की औसत से 1,944 रन बनाए। जिसमें 5 सेंचरी और 11 हाफ सेंचरी हैं। उनका हाई स्कोर 212 रन है जो उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाया।

साल 2008 में जाफर ने कोलकाता में पाकिस्तान के खिलाफ 202 रन बनाए। जाफर भारत के उन पांच सलामी बल्लेबाजों में शामिल हैं जिन्होंने टेस्ट में दो से ज्यादा दोहरा शतक लगाए हैं। दोहरा शतक लगाने वालों में विरेंदर सहवाग 6, सुनील गावस्कर 3, मयंक अग्रवाल ,वीनू मांकड भी शामिल हैं। देश के लिए दो वनडे भी खेले।

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में शानदार करियर

जाफर रणजी ट्रॉफी में 12,038 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। उन्होंने अपने करियर में ज्यादातर समय मुंबई के लिए खेला लेकिन बाद के दिनों में वे विदर्भ से भी खेले। जाफर रणजी ट्रॉफी में 150 मैच खेलने वाले पहले बल्लेबाज हैं। उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 260 मैचों में 50.67 की औसत से 19,410 रन बनाए। जिसमें 57 शतक और 91 अर्धशतक शामिल हैं। जाफर के नाम 10 रणजी ट्रॉफी का टाइटल भी है।

जाफर ने अल्लाह को कहा शुक्रिया

जाफर ने सबसे पहले अल्लाह का शुक्रिया अदा किया । उन्होंने कहा मुझे इस शानदार खेल को खेलने के लिये प्रतिभा बख्शी। मैं अपने परिजनों, मेरे माता पिता और भाइयों का आभार व्यक्त करना चाहता हूं, जिन्होंने मुझे इस खेल को पेशे के तौर पर अपनाने के लिये प्रोत्साहित किया। मैं अपनी पत्नी का आभार व्यक्त करना चाहता हूं जिसने मेरा घर बसाने और मेरे और बच्चों के लिए इंग्लैंड की आरामदायक जिंदगी छोड़ दी।

You may also like...