शाह पर राहुल का शायराना वार, ‘दिल के खुश रखने को शाह-यद ये ख्याल अच्छा है’

आपने मिर्ज़ा ग़ालिब का मशहूर शेर सुना होगा ‘दिल के खुश रखने को ग़ालिब ये ख्याल अच्छा है’   ठीक इसी अंदाज़ में राहुल गांधी ने बीजेपी और अमित शाह पर सीमा की सुरक्षा को लेकर निशाना साधा है.

शाह को राहुल का शायराना जवाब

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर तंज कसा. सीमा सुरक्षा को लेकर दिये गये अमित शाह के बयान पर राहुल गांधी ने लिखा है कि सबको मालूम है सीमा की हकीकत, लेकिन दिल बहलाने को ‘शाह-यद’ ये ख्याल अच्छा है.

अमित शाह ने क्या कहा था ?

दरअसल गृह मंत्री अमित शाह ने 7 जून को बिहार में एक वर्चुअल रैली की थी जिसमें उन्होंने नीतीश को मुख्यमंत्री पद का चेहरा तो घोषित किया ही पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए शाह ने सीमा सुरक्षा का मुद्दा भी उठाया और कहा कि पहले की सरकारों के वक्त सीमा पर दुश्मन देश के फौजी हमारे सैनिकों का सिर काटकर ले जाते थे और दिल्ली में बैठी सरकार को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता था. अमित शाह ने कहा था कि अमेरिका और इजरायल के बाद अगर कोई देश अपनी सीमाओं की सुरक्षा करने में सक्षम है तो वो भारत है और यह पूरी दुनिया यह मान रही है.

मिर्ज़ा ग़ालिब के शेर का इस्तेमाल

अमित शाह के इसी आरोप का जबाव देने के लिये राहुल गांधी ने मिर्जा ग़ालिब के शेर को मॉडिफाई किया और ट्विटर पर अमित शाह को बिल्कुल जुदा अंदाज में जवाब दे दिया. गौरतलब है कि लद्दाख में सीमा पर चीन से इस वक्त संबंध खराब दौर से गुजर रहे हैं. कभी चीनी सेना के भारतीय सैनिकों की झड़प की खबरें आती हैं तो कभी चीनी सेना के भारतीय इलाकों में घुसने की खबरें आती हैं. खुद राहुल गांधी कई बार सरकार को इस मुद्दे पर घेरकर सच्चाई छुपाने का आरोप लगा चुके हैं.

सरकार पर राहुल का नॉनस्टॉप वार

इससे पहले राहुल गांधी ने 29 मई को केंद्र सरकार पर हमला बोला था, एक ट्वीट में, राहुल गांधी ने कहा था कि, “चीन के साथ सीमा की स्थिति के बारे में सरकार की चुप्पी संकट के समय में भारी अटकलों और अनिश्चितता को हवा दे रही है. भारत सरकार को स्पष्ट करना चाहिए और भारत को बताना चाहिए कि वास्तव में क्या हो रहा है.”

इतना ही नहीं 26 मई को भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मीडिया को अपने संबोधन के दौरान राहुल ने कहा था कि, “सीमा पर क्या हुआ, इसकी जानकारी सरकार को लोगों के साथ शेयर करना चाहिए.” उन्होंने कहा था कि नेपाल के साथ क्या हुआ और क्यों हुआ, लद्दाख में क्या हो रहा है ये सब स्पष्ट किया जाना चाहिए.

You may also like...