India Vs Australia Women’s T20 फाइनल, टीम इंडिया इतिहास रचने को तैयार

ICC वूमेंस T20 वर्ल्ड कप का फाइनल मैच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड आज खेला जाएगा। इंटरनेशनल विमेंस डे होने की वजह से फाइनल और भी रोमांचक होने का अनुमान है। बता दें ये पहला मौका है, जब दोनों टीमें खिताबी जंग में आमने-सामने है। दोनों टीमें वर्ल्डकप में एक ही ग्रुप में रही है और वर्ल्ड कप के ओपनिंग मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हराया था।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत का बेहतर रिकॉर्ड

भारत के लिए अच्छी बात यह है कि उसका ऑस्ट्रेलिया में रिकॉर्ड अच्छा है। शटीम इंडिया के लिए ऑस्ट्रेलिया लकी रहा है। अपने देश से ज्यादा मेजबान के खिलाफ मैच जीते हैं। दोनों देशों के बीच ऑस्ट्रेलिया में अब तक 8 T20 हुए हैं। जिसमें 4 भारत, तो इतने ही मेजबान टीम जीती। इस लिहाज से भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में 50 फीसदी मैच जीती। जबकि भारत में टीम इंडिया का रिकॉर्ड अच्छा नहीं है। घरेलू पिच पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया से 7 मैच खेले हैं। इसमें महज 1 में उसे जीत मिली, जबकि 6 मुकाबले मेहमान टीम जीती।

विश्वकप की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत का सक्सेस रेट 50 फीसदी है। दोनों टीमों के बीच T20 वर्ल्ड कप में अब तक 4 मैच हुए, जिसमें 2 टीम इंडिया और 2 बार ऑस्ट्रेलिया को जीत मिली।

टीम इंडिया 11 साल में पहली बार फाइनल में

भारतीय टीम टूर्नामेंट के 11 साल के इतिहास में पहली बार फाइनल में पहुंचीं है, जबकि मेजबान ऑस्ट्रेलिया लगातार छठी बार फाइनल खेल रही है। उसने सबसे ज्यादा 4 बार 2010, 2012, 2015 और 2018 में खिताब जीता। इंग्लैंड और वेस्टइंडीज की टीम एक-एक बार चैम्पियन बनीं। वहीं, टीम इंडिया ने 3 बार 2009, 2010, 2018 में सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। पिछली बार उसे सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने 8 विकेट से हराया था। 2010 टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में शिकस्त दी थी। 2009 में कीवी ने भारतीय महिला के विजय रथ को सेमीफाइनल में ही रोक दिया था। अगर आंकड़े से हट कर देखें तो टीम इंडिया इस बार मजबूत इरादों के साथ फाइनल में पहुंची है। टीम इंडिया की कई प्लेयर्स पूरी तरह से लय में हैं

शेफाली वर्मा और पूनम यादव पर होगी नजर

अब तक टूर्नामेंट में भारत की ओर से बल्लेबाजी में शेफाली वर्मा और बॉलिंग में पूनम यादव ने जबरदस्त प्रदर्शन किया है। शेफाली वर्मा 161 के स्ट्राइक रेट से 161 रन बना चुकी हैं। शेफाली का औसत 40.25 का रहा है। इस प्रदर्शन की बदौलत महज 16 साल की शेफाली ICC T-20 रैंकिंग में 19 स्थान की छलांग लगाकर टॉप पर पहुंच गईं। जबकि बॉलिंग में भारत की पूनम यादव अभी तक कुल 9 विकेट ले चुकी हैं।

ऑस्ट्रेलिया बनाम पूनम यादव

इस T20 वर्ल्डकप के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने पूनम पर खास रणनीति बनाने में जुटी है क्योंकि लीग में पूनम ने 4 विकेट 19 रन पर झटके थे। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान लेनिंग का कहना है कि हम पहले गेम से सबक लेकर मैदान में उतरेंगे । साथ ही मेग लेनिंग ने कहा कि भारतीय स्पिनर्स मैच का पासा पलट सकती हैं।

भारत की नजर लेनिंग और गार्डनर

फाइनल के महामुकाबले में टीम इंडिया के लिए बल्लेबाजी का दारोमदार शेफाली वर्मा और स्मृति मंधाना पर है शेफाली के लिए टूर्नामेंट बेहतरीन रहा है और फाइनल में अच्छे खेल की उम्मीद है। लेकिन मंधाना का बल्ला खामोश रहा हैं। लिहाजा उनके लिए बड़ा दिन हो सकता है। वहीं ऑस्ट्रेलिया के लिए लेनिंग और गार्डनर में तीसरे नंबर बल्लेबाजी की हड़ है। आखिरी दो मैच लेनिंग ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन की है लेकिन के खिलाफ उनकी बल्लेबाजी ठीक नहीं थी जबकि गार्डनर का परफॉर्मेंस नंबर 3 पर टीम इंडिया के खिलाफ दमदार है उन्होंने दो हाफ सेंचरी लगाए हैं जिसमें 93 की पारी भी शामिल है।

वैसे मेलबर्न में आसमान साफ है। मौसम सुहाना होने से फैंस को रोमांचक महामुकाबला देखने को मिलेगा। इस ग्राउंड पर वूमेन्स वर्ल्ड कप में पहले बैंटिग करनेवाली टीम ने औसतन 125 रन स्कोर किया है। इतना ही नहीं इस मैदान में पहले बल्लेबाजी करनेवाली टीम 3 बार जबकि बाद में बल्लेबाजी करनेवाली टीम को 4 बार जीत मिली है। लिहाजा फाइनल में टॉस काफी अहम हो सकता है।

You may also like...