मुंबई में बंद की गईं शराब की दुकानें, BMC ने भारी भीड़ को देखते हुए लिया फैसला

लॉकडाउन-3 में शराब की दुकान को खलने के फैसले को मुंबई बीएमसी ने वापस ले लिया है। यानी अब मुंबई में शराब की दुकानों का शटर अब डाउन ही रहेगा। भारी भीड़ जुटने की वजह से बीएमसी ने मुंबई में शराब की दुकानों को बंद रखने का फैसला लिया है।

शराब दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ रही धज्जियां

लॉकडाउन 3.0 के साथ ही पहले दिन जब देश भर में शराब की दुकानें खुलीं तो सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा दी गईं। देश के हर कोने से शराब दुकानों पर अफरा-तफरी और मारपीट तक की नौबत दिखाई दी। मुंबई के रेड जोन वाले इलाकों में शराब की दुकानों पर भारी भीड़ और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ते हुए देखने के बाद लॉकडाउन-3 में महाराष्ट्र सरकार की तरफ से एक दिन पहले जो छूट शराब समेत गैर जरूरी दुकानों को दी गई थी उसे बीएमसी ने मुंबई से वापस ले लिया है।

मुंबई में शराब के साथ सभी गैरजरूरी दुकानें बंद रहेंगी

मुंबई रेड जोन में है लिहाजा शराब की दुकानों को खोलने के बाद वहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हुआ। ऐसे में हालात बिगड़ता देश बीएमसी को कड़ा कदम उठाना पड़ा. BMC कमिश्नर प्रवीण परदेसी की तरफ से जारी दिशानिर्देश के मुताबिक, ‘मुंबई में सभी गैरजरूरी दुकानें बंद रहेंगी. सिर्फ किराने की दुकान और मेडिकल स्टोर जैसी जरूरी दुकानों को खोलने की इजाजत होगी’।

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से बिगड़े हालात

कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में महाराष्ट्र सबसे ऊपर है। जहां कोरोना संक्रमण के 15 हजार से ज्यादा मामले सामने आए चुके हैं। मुंबई देश का एकलौता ऐसा शहर है जहां करीब 10 हजार कोरोना मरीज हैं। मुंबई में बीते 24 घंटे में कोरोनावायरस के 635 नए मामले सामने आए और इस दौरान 26 लोगों की मौत हो गई।

You may also like...