कहां कोरोना की वजह से डॉक्टर ने किया सुसाइड, जानने के लिए पढ़ें पूरी रिपोर्ट

वैश्विक महामारी COVID-19 से दुनियाभर में दहशत का माहौल है । समय बीतने के साथ कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता जा रहा है । आलम ये है कि कोरोना का खौफ लोगों के मन और मस्तिष्क में घर करने लगा है । लोग इस कदर डरने लगे हैं कि अपनी जान तक दे दे रहे हैं । ऐसी कई खबरें अलग-अलग देशों से आ चुकी है ।

ऐसी ही दर्दनाक खबर फ्रांस से आई है । फ्रांस के फुटबॉल क्लब रीम्स के डॉक्टर बर्नार्ड गोंजालेज ने सुसाइड कर लिया है । बताया ये जा रहा है कि बर्नार्ड कोरोना से संक्रमति थे । स्वभाव से हंसमुख बर्नार्ड खिलाड़ियों का मनोबल और उत्साह बढ़ाने के लिए जाने जाते थे लेकिन उनकी खुदकुशी से फुटबॉलर्स और उनके चाहने वालों को बेहद दुख पहुंचा है ।

कोरोना से डिप्रेशन में थे बर्नार्ड

60 साल के बर्नार्ड के सुसाइड पर फ्रांस में रीम्स शहर के मेयर अर्नाड रॉबिने ने कहा कि बर्नार्ड के सुसाइड से मुझे झटका लगा है। मैं उन्हें कई सालों से जानता था। बर्नार्ड ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमें उन्होंने खुद को कोरोना संक्रमित होने की बात लिखी है। बर्नार्ड को शहर के सभी लोग पसंद करते थे। वे अपने अच्छे व्यक्तित्व को लेकर बेहद मशहूर थे। वहीं, क्लब की मेडिकल टीम ने बताया कि बर्नार्ड कोरोना पॉजिटिव होने से डिप्रेशन में थे लेकिन दो दिन पहले काफी स्वस्थ दिख रहे थे। दरअसल बर्नार्ड करीब दो दशक से रीम्स फुटबॉल क्लब से जुड़े थे।

खिलाड़ियों पर कोरोना की काली छाया

चीन से शुरू हुआ कोरोना का आतंक कई खिलाड़ियों को अपना शिकार बना चुका है । आपको ये जानकार बेहद दुख होगा कि कोरोना की वजह से मार्च महीने के आखिरी दिन यानी 31 मार्च को दो पूर्व प्लेयर्स की मौत हो गई । इसमें  इंग्लैंड के लंकाशायर क्रिकेट क्लब के प्रेसिंडेंट 71 साल के डेविड हॉजकिस और फ्रांस के ओलिंपिक डी मार्शल फुटबॉल क्लब के पूर्व अध्यक्ष पेप दिऑफ  । इससे पहले 28 मार्च को पाकिस्तान के स्क्वैश लीजेंड आजम खान का 95 साल की उम्र में इंतकाल हो गया था। आजम ने 1959 से 1962 के बीच लगातार 4 बार ब्रिटिश ओपन खिताब जीता था।

भले ही भारत कोरोना के खिलाफ लड़ाई में दुनिया के सामने अपने प्रयासों से उत्साह भरने की कोशिश कर रहा है लेकिन हर रोज बढ़ता मौत का आंकड़ा लोगों को कही ना कही परेशान भी कर रहा है । अब तक दुनिया में 69 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है । वहीं फ्रांस में आठ हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है ।

You may also like...