कोरोना का ख़ौफ़ : बिहार में फैला कोरोना से मौत की अफवाह, नीतीश सरकार ने जारी की एडवाइजरी

कोरोना के ख़ौफ़ ने अब जोर शोर से अफवाहों का भी रूप ले लिया है । सोशल मीडिया ने इन अफवाहों को ज़बरदस्त हवा देने का काम किया किया है । कोरोना के फैलने से लेकर कई तरह के उसके इलाज़ के वीडियो और उससे जुड़ी सूचनाएं काफ़ी तेज़ी से वायरल हो रही हैं ।

एक न्यूज़ चैनल की खबर से फैला अफवाह

आज ऐसी ही एक ख़बर बिहार में काफ़ी वायरल हुई , जब औरंगाबाद के ओबरा प्रखंड से एक मरीज के मरने की ख़बर आयी । एक न्यूज़ चैनल ने इसे अपनी खबर बनाया और उसका वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ । ख़बर में ये दावा किया गया कि उस मरीज़ में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है । डॉक्टर के बयान को भी उसके साथ जोड़कर बताया जाने लगा । हालांकि बाद में औरंगाबाद प्रशासन ने उस ख़बर को निराधार बताया और कहा कि ये महज़ अफवाह थी ।

नीतीश कुमार ने जारी की हेल्थ एडवाइजरी

हेल्थ एडवाइजरी

ऐसी ही अफवाहों पर रोक लगाने के लिए बिहार सरकार ने एक हेल्थ एडवाइजरी जारी की है । सरकार ने कहा है कि अफवाहों पर ध्यान न दें । बाहर निकलने पर अपने मुंह को ढंक कर चलें , किसी तरह की शंका हो तो 104 नम्बर पर डायल करें ।

बिहार में सतर्क है राज्य सरकार

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने गुरुवार को बताया कि राज्य में कोरोना वायरस पॉज़िटिव अभी कोई मरीज़ नहीं है । वह लगातार हालातों पर नज़र बनाए हुए है । स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि बिहार में 50 संदिग्ध मरीज़ों के सैम्पल लिए गए हैं और 47 की रिपोर्ट निगेटिव है बाकी 3 मरीजों का रिपोर्ट बाकी है ।

सरकार ने बताया है कि पटना एयरपोर्ट पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है । बाहर से आने वाले यात्रियों की पूरी स्क्रीनिंग की जा रही है । बिहार में किसी को डरने की ज़रूरत नहीं है , सिर्फ सतर्कता बरतने की आवश्यकता है ।

You may also like...