LOC पर पाकिस्तान की डेंजरस साजिश, घुसपैठ के लिए तालिबानी आतंकियों को ट्रेंड कर रही पाक सेना

एक ओर चीन चाल चल रहा है तो दूसरी ओर पाकिस्तान खतरनाक साजिशें रचने में जुटा है। खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तानी सेना LOC पर तालिबानी आतंकियों को ट्रेनिंग दे रही है ताकि वो कश्मीर में घुसपैठ कर सके।

पाकिस्तान की डेंजरस चाल

खुफिया एजेंसियों ने बताया कि लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) के पार पाकिस्तानी सेना के साथ 4 आतंकी कैंप कर रहे हैं, जिसमें दो तालिबानी हैं। सभी आतंकी नौशेरा सेक्टर के सामने पाकिस्तानी सेना की 28 सिंध बटालियन की निगरानी में हैं। जिन्हें भारत में घुसपैठ करने के लिए ट्रेनिंग दिया जा रहा है।

ऑपरेशन ऑल आउट से पाकिस्तान में खलबली

हिंद के रणबांकुरे घाटी में छिपे एक एक दहशतगर्दों को ढूंढ कर मौत के घाट उतार रहे हैं। उत्तर कश्मीर को आतंक से आजाद कराने के बाद सेना का मिशन है कि वो साउथ कश्मीर की धरती से दहशतगर्दों का नामोनिशान मिटा दे। सेना की इसी रणनीति से जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान के तालिबानी आतंकियों और दूसरे आतंकी संगठनों को बड़ा झटका लगा है। 

पाकिस्तान की SSG को ट्रेनिंग का जिम्मा

सूत्रों के मुताबिक अफगानिस्तान के कुछ जिलों में तालिबान की ताकत बढ़ी है। जिससे तालिबानी आतंकियों की तादाद में अचानक इजाफा हुआ है। पाकिस्तानी सेना का स्पेशल सर्विस ग्रुप (SSG) इन आतंकियों को कश्मीर में हमले को अंजाम देने के लिए ट्रेनिंग दे रहा है। 

टेरर के लिए तैयार हो रहे 20 आतंकी

खुफिया एजेंसी के मुताबिक अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत की राजधानी जलालाबाद में 20 तालिबानी आंतकियों के ग्रुप को पाकिस्तान की SSG कश्मीर मिशन के लिए तैयार कर रहा है। लंबे अर्से से तालिबानी आतंकवादियों को पाकिस्तान अपनी धरती पर शरण देता आया है। अलकायदा जैसे आतंकवादी संगठन को भी पाकिस्तान ने मदद पहुंचाई है। आतंकी संगठन अलकायदा ने जलालाबाद में पाकिस्तानी सेना और वहां की खुफिया एजेंसी ISI की मदद से आतंकी कैंप बनाए हैं।

You may also like...