कोरोना के ख़ौफ़ में Cisco, Google और Microsoft जैसी कंपनियां: कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम के लिए कहा

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को ख़ौफ़ में डाल दिया है । विश्व स्तर पर इस वायरस से प्रभावित लोगों की संख्या 95000 की संख्या पार कर चुकी है । पूरे विश्व में इस वायरस से मरने वाले कि संख्या भी लगातार बढ़ते हुए 3200 के आंकड़े को पार कर चुकी है ।

विश्व स्तर पर इस वायरस के ख़तरे को देखते हुए दुनियां की दिग्गज टेक्नोलॉजी कम्पनियों ने अपने कर्मचारियों को घर से ही काम करने को कहा है।गूगल,ट्विटर,फेसबुक, माइक्रोसॉफ्ट और सिस्को जैसी कम्पनियाँ अपने कर्मचारियों को सॉफ्टवेयर दे रही है ताकि वे अपने घर से ही काम कर सकें । इन कम्पनियों का मानना है कि घर से काम करने से इस खतरनाक वायरस से बचा जा सकता है ।

सुंदर पिचाई ने किया घोषणा

गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी । उन्होंने गूगल क्लाउड के ऑफिसियल हैंडल के ट्वीट को रिट्वीट किया। पिचाई ने लिखा कि हम दुनिया भर की कस्टमर्स और अपने कर्मचारियों की सेहत का ख्याल रखते हैं।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

सुंदर पिचाई का रीट्वीट

पिचाई ने ब्लॉग में लिखा कि वायरस के वैश्विक स्तर पर फैलाव और उसके खतरे को देखते हुए कर्मचारियों को हैंगआउट्स मीट वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग क्षमताओं का मुफ़्त एक्सेस देने जा रही है । यह एक जुलाई तक मुफ़्त होगा । इसके मुताबिक कर्मचारी घर बैठे ही मीटिंग आदि में हिस्सा ले सकेंगे ।

माइक्रोसॉफ्ट और सिस्को भी राहत देने की राह पर

गूगल की तरह ही माइक्रोसॉफ्ट और सिस्को जैसी कम्पनियों ने भी अपने कर्मचारियों के लिए ऐसी ही घोषणा की है । माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी तकनीकी टूल टीम एक्सेस प्लेटफॉर्म को अपने कर्मचारियों के लिए 6 महीने तक मुफ़्त देने की घोषणा की है । इसी तरह दिग्गज सॉफ्टवेयर कम्पनी सिस्को ने अपने वीडियो कांफ्रेंसिंग टूल WEBEX को अपने कर्मचारियों के लिए मुफ़्त करने की घोषणा की है ।

इन सारी सुविधाओं को उन देशों के लिए उपलब्ध कराया जा रहा है, जहां उसके कर्मचारी कार्यरत हैं । इससे कोरोना वायरस से प्रभावित होने का ख़तरा भी बेहद कम रहेगा ।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

You may also like...