शाकिब से अमन बनकर गर्लफ्रेंड बनाई, भांडा फूटा तो गला रेत कर मार डाला, 25 लाख भी लूट लिए

पहले पहचान छुपाई, फिर धोखे का जाल बुनकर हिंदू लड़की से प्यार किया और जब भांडा फूटा तो उसी प्यार का कत्ल कर दिया। ये कहानी आपको भले ही फिल्मी लग रही होगी लेकिन ये सच्ची कहानी है।

पंजाब के लुधियाना की रहने वाली सपना (काल्पनिक नाम) ने अमन नाम के लड़के से प्यार किया। उसके साथ सात जन्मों तक जीने मरने का सपना संजोया। लेकिन उसे क्या पता था कि वो जिस अमन से प्यार करती है वो शाकिब निकलेगा और वही उसका कत्ल कर देगा।

दरअसल करीब एक साल बाद यूपी की मेरठ पुलिस ने बिना सिर और हाथ के मिली लाश मामले में सनसनीखेज खुलासा करते हुए जघन्य हत्याकांड का खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक लुधियाना की सपना (काल्पनिक नाम) बीकॉम में पढ़ती थी। सुनहरे भविष्य का सपना संजोए थी।

पहचान छुपा कर लुधियाना में रह रहा था शाकिब

वहीं मेरठ के लोईया गांव का शाकिब लुधियाना में नौकरी करता था। उसने लोगों को अपना नाम अमन बता रखा था। इसी दौरान शाकिब उर्फ अमन ने छात्रा को प्रेमजाल में फंसा लिया। मई 2019 में दोनों लुधियाना से फरार हो गए। युवती अपने साथ करीब 25 लाख रुपये की ज्वैलरी ले कर आई थी।

ईद के दिन खुली शाकिब की पोल

दोनों करीब एक महीना तक दौराला में किराए के मकान में रहे। पिछले साल ईद वाले दिन शाकिब लड़की को लेकर अपने घर पहुंचा। जहां छात्रा को शाकिब की असलियत का पता चला कि वो अमन नहीं बल्कि मुस्लिम युवक शाकिब है। भांडा फूटते ही दोनों के बीच झगड़ों का दौर शुरू हो गया।

भांडा फूटा तो मार डाला

ईद के दिन ही रात 9 बजे आरोपी शाकिब ने कोल्डड्रिंक में नशीली दवा मिला कर छात्रा को पिला दी। पीड़ित छात्रा जब बेहोशी हो गई तो आरोपी ने अपने कुछ साथियों की मदद से छात्रा को पास के खेत में ले गया और वहीं उसकी गला रेत कर हत्या कर दी। आरोपियों ने पहचान छिपाने के लिए लड़की का सिर और हाथ काटकर कहीं और फेंक दिया।

ऐसे हुऐ हत्याकांड का खुलासा

मेरठ के एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि 14 जून, 2019 को लोईया गांव में सबी अहमद के खेत में पड़ोसी ईश्वर पंडित ने कुत्ते को इंसान का एक हाथ मुंह में लेकर भागते हुए देखा था। जब गन्ने का खेत खुदवाया गया, तो वहां से एक लड़की की लाश बरामद हुई। जिसका सिर और एक हाथ गायब था। तब युवती की पहचान नहीं हो पाई।

सलाखों के पीछे पहुंचा हत्यारा !

पुलिस ने इस मामले में अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई थी। अब करीब एक साल बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी शकिब सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। तीन से चार दूसरे युवक भी हिरासत में हैं।

You may also like...