इंदौर में ‘भगवान’ पर बरसे पत्थर तो छलक आया राहत इंदौरी का दर्द

डॉक्टर को भगवान का दर्जा दिया जाता है इस कोरोनाकाल में तो मेडिकल स्टॉफ देवदूत बनकर सामने आए हैं लेकिन सोचिए इन्हीं देवदूतों पर अगर पत्थर बरसे तो क्या इससे ज्यादा शर्मनाक कुछ हो सकता है एमपी में कोरोना का गढ़ बने इंदौर से आई तस्वीरों ने लोगों को गुस्से से भर दिया है

डॉक्टरों पर बरसे पत्थर

इंदौर के टाटपट्टी बाखल में बुधवार को कोरोना संक्रमितों की जांच करने पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम पर लोगों ने पथराव कर दिया इसके बाद स्वास्थ्यकर्मी जैसे तैसे वहां से जान बचाकर भागे उपद्रवियों ने पथराव तो किया ही बैरिकेड्स भी तोड़ दिए ये शर्मनाक वाकया तब सामने आया जब एक कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगों की स्क्रीनिंग करने पहुंची थी

उपद्रवियों ने किया पथराव

खबरों के मुताबिक तो एक कोरोना पॉजिटिव के कॉन्टेक्ट की हिस्ट्री मिलने के बाद स्वास्थ्य महकमे की टीम पहुंची तो कुछ उपद्रवियों ने पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। टीम कुछ समझ पाती इसके पहले ही चेहरे पर रुमाल बांधकर कई लोग आ गए और बेहिसाब पत्थर बरसाने लगे अचानक हुए इस हमले के बाद डॉक्टर और नर्स  अपनी गाड़ियों की तरफ भागे

किसी तरह बची जान

डॉक्टर्स और नर्सों के मुताबिक किसी तरह उनकी जान बच पाई स्वास्थ्य विभाग की इस टीम के साथ एक तहसीलदार और पुलिस फोर्स भी थी जिसके कारण हालात कुछ संभल पाए वहीं मामले का वीडियो सामने आने के बाद इस मामले में एफआईआर दर्ज करके करीब 7 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है

घटना के दुखी राहत इंदौरी

इंदौर में डॉक्टरों के साथ हुई इस घटना के बाद मशहूर शायर राहत इंदौरी का सोशल मीडिया पर दर्द छलक आया राहत इंदौरी ने एक वीडियो शेयर किया जिसमें उन्होंने इंदौर के मिजाज पर सवाल उठाए उन्होंने कहा कि- ‘दोस्‍तों, कल जो हमारे शहर में वाकया पेश आया, उसकी वजह से यकीन मानिए, सारे मुल्‍क के लोगों के सामने शर्मिंदगी से गर्दन झुक गई। ये लोग जो आपके साथी थे। आपकी हालत, आपकी तबियत देखने आए थे। उनके साथ जो आपने सुलूक किया, पूरा हिंदुस्‍तान हैरत में है कि ये इंदौर शहर जो इतना पढ़ा-लिखा, इतना तमीजों वाला है आखिर इस शहर को ये क्‍या हो गया? किसकी नजर लग गई? किन अफवाहों में आप लोग गिर गए? खुदा के लिए, सोच-समझकर कदम उठाएं। वो लोग जो आपके पास आ रहे हैं, आपकी मदद के लिए आ रहे हैं। डॉक्‍टर्स, हेल्‍थ ऑफिसर्स, पुलिस ये सब आपके मददगार हैं। इनकी मदद आप अगर करेंगे तो वक्‍त कल हमारी मदद करेगा

घटना पर सख्त प्रशासन

वहीं डॉक्टरों पर हुए इस हमले के बाद प्रशासन ने हमलावरों के खिलाफ सख्‍त रुख अख्तियार कर लिया है इंदौर के कलेक्‍टर मनीष सिंह ने कहा कि मेडिकल टीम पर हमला करने वाले लंबे समय तक जेल में रहेंगे। सुरक्षा पुख्‍ता करने के लिए इंदौर में 5 कंपनी फोर्स मंगाई गई है जो जल्‍द पहुंच जाएगी।

बिहार और कर्नाटक में भी सामने आए मामले

एमपी के इंदौर जैसे ही मामले बिहार के मुंगेर और मधुबनी जिलों से भी सामने आए यहां भी कोरोना को कर्मवीरों पर हमला किया गया, बुधवार को मुंगेर में संदिग्‍ध मरीजों की जांच के लिए पहुंची मेडिकल टीम पर हमला हो गया। यहां एक बच्‍ची की मौत के बाद टीम उसके परिवार को होम क्‍वारंटीन में रखने और जांच के लिए गई थी।

You may also like...