कोरोना ने छिन ली रिटायर्ड जस्ट‍िस एके त्रिपाठी की जान, 2019 में बने थे लोकपाल सदस्य

कोरोना वायरस ने छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश और लोकपाल के सदस्य अजय कुमार त्रिपाठी की जान ले ली। लोकपाल के सदस्‍य और रिटायर्ड जस्टिस अजय त्रिपाठी कोरोना से संक्रमित थे। कोरोना वायरस की पुष्टि होने के बाद 2 अप्रैल को ही जस्ट‍िस एके त्रिपाठी को एम्स में भर्ती कराया था।

एम्स में वेंटिलेटर पर थे ए के त्रिपाठी

62 साल के जस्टिस अजय त्रिपाठी को एम्स में वेंटिलेटर पर रखा गया था। रिटायर्ट जस्‍टिस त्रिपाठी की बेटी और रसोइया को भी कोरोना का संक्रमण हुआ था हालांकि वह दोनों लोग फिलहाल स्‍वस्‍थ्‍य बताएं जा रहे हैं।

रमन सिंह ने ट्वीट कर दुख जताया

लोकपाल के सदस्य (Lokpal member) और रिटायर्ड जज एके त्रिपाठी की मौत पर छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने ट्वीट कर दुख जताया और ईश्वर से उनकी आत्मा को शांति प्रदान करने की प्रार्थना की।

कौन थे एके त्रिपाठी?

भ्रष्टाचार विरोधी लोकपाल के चार न्यायिक सदस्यों में से एक थे जस्टिस एके त्रिपाठी। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश के साथ-साथ वो बिहार राज्य के अतिरिक्त महाधिवक्ता के रूप में भी कार्य किया था । पटना हाई कोर्ट के अतिरिक्त न्यायाधीश के पद पर पदोन्नत हुए और बाद में मुख्य न्यायाधीश बने। 23 मार्च 2019 को जस्टिस एके त्रिपाठी लोकपाल के न्यायिक सदस्य के रूप में नियुक्त हुए थे।

You may also like...